'सेना एनएसजी के नीचे काम नहीं कर रही थी'

  • 13 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट PIB

आर्मी चीफ जनरल दलबीर सिंह सुहाग ने कहा है कि पठानकोट के चरमपंथी हमले के बाद ऑपरेशन आसान नहीं था.

इस ऑपरेशन में इसलिए ज़्यादा वक़्त लगा क्योंकि हम चाहते थे कि कम से कम लोग हताहत हों.

इमेज कॉपीरइट AP

पठानकोट ऑपरेशन के बाद पहली बार मीडिया के सामने आए आर्मी चीफ़ ने कहा कि सेना एनएसजी के तहत काम नहीं कर रही थी.

उन्होंने कहा कि ऑपरेशन की पूरी कमान वेस्टर्न कमांड के हाथ में थी.

एनएसजी को इसलिए बुलाया गया था कि अगर किसी को बंधक बनाया गया हो, तो उनकी मदद ली जा सके.

इमेज कॉपीरइट AP

सुहाग ने इस बात से भी इनकार किया कि एजेंसियों में तालमेल की कमी थी.

आर्मी चीफ़ ने कहा कि ऑपरेशन के दौरान एजेंसियों में अच्छा तालमेल देखा गया.

उन्होंने कहा कि वह देश को आश्वस्त करना चाहते हैं कि हमारी सेना हर वक़्त चौकस है और वह देश की सुरक्षा के लिए किसी भी चुनौती का सामना करने को तैयार है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार