स्टार्ट-अप और असहिष्णुता एक साथ नहीं चलेंगेः राहुल

राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट OfficeOfRG

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मुंबई में बिजली की दरों के ख़िलाफ़ बांद्रा के नेशनल कॉलेज से धारावी तक की आठ किलोमीटर लंबी पदयात्रा कर रहे हैं.

पदयात्रा में कई कांग्रेसी नेता उनके साथ शामिल हैं. पूर्व सांसद प्रिया दत्त और मुंबई कांग्रेस प्रमुख संजय निरुपम भी उनके साथ शामिल हैं.

इससे पहले राहुल गांधी ने मुंबई के एनएमआईएमएस कॉलेज के छात्रों से बातचीत की.

इस दौरान राहुल गांधी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी जीएसटी बिल के ख़िलाफ़ नहीं हैं.

राहुल ने कहा कि सरकार को इस बिल के प्रावधान स्पष्ट करने होंगे. उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली उन्हें अपनी बेटी की शादी का कार्ड देने आए थे लेकिन मीडिया ने कहा कि जीएसटी पर चर्चा के लिए आए थे.

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि नेताओं को क्रिकेट जैसे खेलों से दूर रहना चाहिए. उन्होंने कहा, "खेल के प्रबंधन से नेता बिलकुल दूर होने चाहिए."

इमेज कॉपीरइट OfficeOfRG

राहुल गांधी ने भाजपा सरकार की पठानकोट हमलों के बाद की नीति पर भी सवाल उठाए.

उन्होंने कहा कि मुंबई हमलों के बाद उनकी सरकार ने पाकिस्तान को अलग-थलग कर दिया था लेकिन मोदी सरकार पाकिस्तान को विशेष अहमियत दे रही है.

राहुल ने कहा कि सभी चरमपंथी हमले रोके नहीं जा सकते लेकिन उनसे अलग तरीक़े से निपटा ज़रूर जा सकता है.

राहुल गांधी ने शनिवार से शुरू हो रहे केंद्र सरकार के स्टार्ट-अप इंडिया कार्यक्रम की सफलता पर भी शक जताया.

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि स्टार्ट-अप शुरू करने वाले लोग रचनात्मक होते हैं, इसलिए स्टार्ट-अप और असहिष्णुता एक साथ नहीं चल सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार