'रोहित की ख़ुदकुशी जातिगत मामला नहीं'

स्मृति ईरानी, रोहित वेमुला इमेज कॉपीरइट AFP FACEBOOK

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने बुधवार को कहा कि रोहित वेमुला की ख़ुदकुशी को जाति पर आधारित मुद्दा बनाने की कोशिश की जा रही है, लेकिन यह जाति आधारित मामला कतई नहीं है.

रोहित वेमुला के ख़त का ज़िक्र करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा, ''इस सुसाइड नोट में किसी सांसद, विश्वविद्यालय के किसी अधिकारी या संगठन का नाम नहीं है.''

हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी से पीएच.डी कर रहे दलित छात्र रोहित वेमुला ने 17 जनवरी की रात फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली थी.

रोहित हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के उन पांच छात्रों में थे, जिन्हें हॉस्टल से निकाला गया था.

इमेज कॉपीरइट ROHITH VEMULA Facebook Page

पुलिस ने छात्रों की शिकायत पर रोहित वेमुला की आत्महत्या के मामले में मोदी सरकार में मंत्री बंडारु दत्तात्रेय के ख़िलाफ़ एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

विपक्षी राजनीतिक दल इस मामले में अभियुक्तों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार