'कश्मीरी पंडित हूँ इसलिए पाक वीज़ा न मिला?'

इमेज कॉपीरइट colors

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर का कहना है कि वो पाकिस्तान का वीज़ा न मिलने पर दुखी है.

अनुपम खेर ने ट्वीट किया, "मुझे पता चला है कि पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने कराची लिट्रेचर फेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए मेरे वीज़ा आवेदन को ठुकरा दिया है."

उन्होंने आगे ट्वीट में किया, "भारत सरकार पाकिस्तान के लेखकों, कलाकारों और अभिनेताओं का स्वागत करती है. पाकिस्तान की सरकार भारतीय अभिनेताओं के प्रवेश पर रोक लगाती है. मुक्त संवाद से डर क्यों हैं?"

वहीं उधर नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग के प्रवक्ता मंजूर मेमन का कहना है कि अनुपम खेर ने कभी वीज़ा के आवेदन ही नहीं दिया.

उन्होंने कहा, "ये स्पष्ट किया जाता है कि पाकिस्तानी उच्चायोग को कभी अनुपम खेर का वीज़ा आवेदन नहीं मिला है. इसलिए वीज़ा देने या न देने का कोई सवाल ही नहीं उठता है."

अनुपम खेर के मुताबिक कराची लिट्रेचर फेस्टिवल के आयोजकों ने एक महीने पहले ही उनका नाम अधिकारियों को दे दिया था और फेस्टिवल के हर पोस्टर में उनका नाम है.

अनुपम खेर का कहना है कि ये दूसरा अवसर है जब उन्हें पाकिस्तानी वीज़ा नहीं दिया गया है.

उन्होंने अपने एक ट्वीट में कहा, "मुझे वीज़ा क्या इसलिए नहीं दिया गया कि मैं सहिष्णुता की समृद्ध भारतीय परंपरा के बारे में बोलता हूं या फिर इसलिए कि मैं एक कश्मीरी पंडित हूं जो पाकिस्तान के चरमपंथी गठजोड़ को उजागर करता हूं?"

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार