हॉलीवुड की फ़िल्मों में दौड़ चुकी है यह कार

  • 7 फरवरी 2016
vintage car इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption उद्योगपति रतन टाटा ने विंटेज कार रैली में शिरकत की.

दिल्ली के ऐतिहासिक लाल क़िला मैदान से निकली विंटेज कार रैली में इस बार क़रीब सौ कारों ने हिस्सा लिया.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption मैडम बेंज ट्राई साइकिल, जो कार युग की शुरुआत से पहले सड़कों पर देखी जाती थीं.

इस रैली को 21 गन सेल्यूट और हैरिटेज मोटरिंग क्लब ऑफ़ इंडिया ने आयोजित किया.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption विंटेज कार रैली में कई शाही परिवार भी शामिल थे, जिनमें से कुछ अपनी कारों के साथ लाल क़िला मैदान पहुँचे.

रैली में 1929 की बॉक 50 एलएक्स, रॉल्स रॉयस और 1933 की हडसन ख़ास आकर्षण थीं.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption 1940 की सात सीटों वाली लिमोज़ीन.

रॉल्स रॉयस के साथ ही जगुआर और बेंटले भी दर्शकों को खींच रही थीं.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption विंटेज कार रैली के मौक़े पर पेंटिंग प्रतियोगिता भी रखी गई थी.

21 गन सेल्यूट कंपनी के प्रबंध निदेशक मदन मोहन के मुताबिक़ ''21 गन सेल्यूट इंटरनेशनल विंटेज कार रैली और कॉन्कोर्स शो के छठे सत्र में इस बार कई अंतरराष्ट्रीय ख़ूबसूरत कारें लाई गई हैं.''

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption 1932 लान्सिया ऑस्टुरा, जो कभी भावनगर के महाराजा की कार थी और जिसे हॉलीवुड की कुछ फ़िल्मों में इस्तेमाल किया गया.

ये लांसिया ऑस्टुरा कभी भावनगर के महाराजा की हुआ करती थी. यह वही गाड़ी है, जो हॉलीवुड की कई जासूसी फ़िल्मों में भी नज़र आई थी. अब इस कार के मालिक हैं जय राजेश.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption 1908 की रॉल्स रॉयस सिल्वर घोस्ट.

लाल क़िला मैदान के अलावा इन विंटेज कारों को नोएडा के बुद्धा इंटरनेशनल सर्किट (बीआईसी) पर भी शाही अंदाज़ में पेश किया गया. रविवार को इनकी रेस आयोजित की जाएगी.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption कई विंटेज कारें और क्लासिक बाइकें भी विंटेज रैली के दौरान प्रदर्शित की गई थीं.
इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption 1931 की ब्यूक कार

इस गाड़ी में सात लोग बैठ सकते हैं. पहले यह गाड़ी बिहार के राजघराने से ताल्लुक रखती थी. अब यह पवन टिबरावाला के पास है.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption टिहरी गढ़वाल के राजा मनुजेंद्र शाह अपनी 1951 कैडिलैक गाड़ी के साथ.

सदियों पुरानी भारतीय विरासत को दर्शाने और मोटर टूरिज़्म को बढ़ावा देने के मक़सद से यह विंटेज कार रैली हो रही है.

इमेज कॉपीरइट indu pandey
Image caption 1930 की फ्रांस की स्पोर्ट्स कार

जिसमें मैकबैक एसडब्ल्यू-38 1937, होर्च-780 कैर्बियोलॉज 1959, लिस्टर कॉस्टिन जैगुआर-1933 जैगुआर एसएसआई कूपे, जैगुआर एक्सके-120, मर्सिडीज-630 मर्फ़ी, रॉल्स रॉयस सिल्वर घोस्ट और कई अन्य शामिल हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)