'मोहब्बत में' 12 साल के लड़के का क़त्ल

विनय इमेज कॉपीरइट

रांची पुलिस ने सातवीं क्लास के एक बच्चे की हत्या के मामले में स्कूल की शिक्षिका, उनके पति, 12 साल की बेटी और 16 साल के बेटे को गिरफ़्तार किया है.

पुलिस का दावा है कि ये हत्या प्रेम प्रसंग की वजह से हुई.

लेकिन मृत छात्र विनय के पिता ने पुलिस की थ्योरी पर अविश्वास जताते हुए मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है.

इमेज कॉपीरइट Ravi Prakash

रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुलदीप द्विवेदी ने बीबीसी को बताया कि स्कूल की शिक्षिका नाज़िया हुसैन की 12 साल की पुत्री और मृत छात्र विनय के बीच प्रेम प्रसंग था.

यह बात उसके भाई को नागवार गुजरती थी. इस कारण उस शिक्षिका के 16 साल के बेटे ने विनय को अपने घर बुलाकर धोखे से उसकी हत्या कर दी.

इमेज कॉपीरइट Ravi Prakash

हत्या के बाद घर के बाकी लोगों ने साक्ष्य मिटाने में सहयोग किया. सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

गिरफ्तार अवयस्कों पर जुवेनाइल एक्ट की धाराओं के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

मृत छात्र विनय महतो के पिता मनबहाल महतो ने बीबीसी से कहा, "हमें पुलिस की कहानी पर भरोसा नहीं है. यह मनगढ़ंत कहानी है. मैं इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग करता हूं."

इमेज कॉपीरइट Ravi Prakash

इस बीच झारखंड हाईकोर्ट ने इस संबंधित एक पीआईएल की सुनवाई करते हुए डीजीपी को एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देने को कहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार