'मेक इन इंडिया' वाला फ़ोन 'मेड इन चाइना'

  • 18 फरवरी 2016
फ़्रीडम स्मार्ट फ़ोन

एक भारतीय कंपनी ने दुनिया का सबसे सस्ता कहा जाने वाला स्मार्टफ़ोन लॉन्च किया है.

कंपनी रिंगिंग बेल्स ने कहा है कि स्मार्ट फ़ोन फ़्रीडम 251 की क़ीमत भी महज 251 रुपए होगी.

भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल फ़ोन बाज़ार है, जहां एक अरब मोबाइल फ़ोन उपभोक्ता हैं. ऐसे में, इस फ़ोन में बहुत से लोगों की दिलचस्पी है.

लेकिन अधिकांश लोग इसे लेकर आशंकित हैं कि क्या ऐसा सच में होगा?

हालांकि यह स्मार्ट फ़ोन देखने में एप्पल के आई फ़ोन जैसा दिखता है. यहां तक कि इसमें दिखने वाले अधिकांश ऐप आईकन भी वैसे ही दिखते हैं.

लेकिन इसकी क़ीमत को देखते हुए इसका 8 जीबी का स्टोरेज और फ्रंट और बैक कैमरा हैरानी पैदा करता है.

फ़ोन में फ़ेसबुक, यूट्यूब और वॉट्सऐप के अलावा स्वच्छ भारत, किसान और महिला सुरक्षा से संबंधित भारत सरकार के ऐप होने की बात भी कही गई. हालांकि मुझे इसमें ये ऐप नहीं मिले.

लोग इसके बारे में कई सवाल कर रहे हैं.

पहला तो ये कि, इतने कम दाम में ये कैसे संभव हुआ? भारतीय ई-कॉमर्स की वेबसाइटों पर छोटे से छोटा स्मार्ट फ़ोन भी क़रीब तीन-चार हज़ार रुपए से कम क़ीमत पर नहीं है.

इसे कहां बनाया जाएगा? कंपनी रिंगिंग बेल्स का कहना है कि इसे देश में ही बनाया जाएगा.

लेकिन जो हैंडसेट पत्रकारों को दिए गए, वो 'मेड इन चाइना' है. इस पर ब्रांड का नाम एडकॉम लिखा है, जिस पर सफेद पेंट कर दिया गया है.

कंपनी अपनी वेबसाइट पर लोगों से ऑर्डर ले रही है और आगामी जून तक मुहैया करने का वादा भी कर रही है. हालांकि कंपनी ने अभी तक कोई फ़ैक्ट्री भी नहीं बनाई है.

इसे देखते हुए लगता है कि लाखों हैंडसेट डिलीवर करना बेहद मुश्किल होगा.

हालांकि इस उत्पाद के ख़रीदारों की कमी नहीं है, लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि क्या ये फ़ोन अपने वादों पर ख़रा उतर सकेगा?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार