'हां, मैं हिंदू हूँ और देशद्रोही भी हूँ'

तिरंगा इमेज कॉपीरइट AFP

सोशल मीडिया पर वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई का ब्लॉग ख़ूब ट्रेंड कर रहा है जिसमें उन्होंने लिखा है, 'मैं राष्ट्रविरोधी हूं और मुझे हिंदू होने पर गर्व है.'

सोशल मीडिया पर #Iamantinational ट्रेंड कर रहा है और लोग उनके विरोध में और समर्थन में बातें कर रहे हैं. सरदेसाई

राजदीप ने लिखा था “जब मुझे पहली बार सोशल मीडिया पर राष्ट्रविरोधी पुकारा गया, मुझे ग़ुस्सा आया. लेकिन आज कई साल बाद हम एक ऐसे समय में हैं जहां बड़ी उदारता से देशभक्ति के सर्टिफिकेट बांटे जा रहे हैं. और मेरा मन करता है कि मैं चीखूं, गर्व से कहो मैं देशद्रोही हूं.”

इसे लेकर सोशल मीडिया पर हो रही चर्चा में कई लोगों ने उनके विरोध में ट्वीट किए हैं.

पूर्व आईपीएस अधिकारी डीजी वंजारा ने लिखा है, “आज भी भारतीय गर्व से कहते हैं#Iamantinational. इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं कि इस देश पर सैकड़ों साल विदेशी शासकों ने राज किया.”

साहिब सिंह के अनुसार “मैं अब इंतज़ार कर रहा हूं कि शाहरुख़ ख़ान, आमिर ख़ान जैसे लोग कहें वे देशद्रोही हैं. वो बिना कुछ सोचे इन मुद्दों पर बात करते हैं. उन्हें शर्म आनी चाहिए.”

अमृता देशपांडे कहती हैं, “हां. वे एक आतंकवादी की पुण्यतिथि मनाएंगे. उसे मौत की सज़ा के ख़िलाफ़ आंदोलन का नाम देंगे और फिर ख़ुद को राष्ट्रविरोधी कहेंगे. शर्म करो.”

वहीं कुछ लोग सरदेसाई का समर्थन भी कर रहे हैं. नवेद अहसान पेरलिया कहते हैं कि वे सरदेसाई के साथ हैं.

पूर्वा अग्रवाल लिखती हैं, “क़ानून को पैरों के नीचे दबाकर अपनी देशभक्ति दिखाने की बजाय मैं चाहूंगी कि मैं राष्ट्रविरोधी होकर संविधान के मूल्यों का सम्मान करूं.”

लुटेरी अनार नाम के एक ट्विटर हैंडल ने एक देशभक्ति सर्टिफिकेट पोस्ट किया है. उनका कहना है उन्होंने इसे जनहित में जारी किया है.

रियाज़ अहमद ने लिखा है, “आरएसएस विरोधी, भाजपा विरोधी = देशद्रोही, आरएसएस समर्थक, भाजपा समर्थक = देशभक्त”

अजित पूछते हैं, “मैं राष्ट्रविरोधी हूँ, क्या अब सरकार सभी ट्विटर यूज़र्स के ख़िलाफ़ देशद्रोह के आरोप लगाएगी.”

सुजीत सरन का कहना है, “अगर सांप्रदायिकता के विरोध में बात करना राष्ट्रविरोधी है तो मैं राष्ट्रविरोधी हूँ.”

राज कुमार के अनुसार, "सरकार की नई दंड संहिता- अगर आप बीजेपी से हैं तो किसी को पीटना, क़त्ल या बलात्कार करना अपराध नहीं है. आरएसएस और बीजेपी का विरोध करना सबसे बड़ा अपराध है."

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने 'केंद्र सरकार की नई दंड संहिता' के बारे में लिखा है.

आरती ने हाल में जेएनयू मामले को लेकर विवादों में आए दिल्ली के पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी के लिए लिखा है, "बस्सी जो सबसे बड़े राष्ट्रवादी हैं उन्हें तुरंत कश्मीर के लिए रवाना होना चाहिए. भारत को उनकी ज़रूरत है."

वे शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में इस्लामी चरमपंथी समूह इस्लामिक स्टेट के झंडे दिखाए जाने की घटना के बारे में बात कर रही थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार