जाट आरक्षणः रोहतक में इंटरनेट सेवाएं बंद

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption गुरुवार को जाट समुदाय के नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाक़ात भी की थी.

हरियाणा के रोहतक में जारी जाट आरक्षण आंदोलन में हिंसा की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने ज़िले में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं.

ज़िला उपायुक्त बीके बेहरा ने बीबीसी संवाददाता पंकज प्रियदर्शी को बताया, "जाट आंदोलन के कारण शहर में झगड़े की भी आशंका है. अफ़वाहों को रोकने के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद की गई हैं."

बेहरा ने कहा, "इंटरनेट के ज़रिए अफ़वाहें फैलाई जा रही हैं. हमें अंदेशा था कि कहीं क्षेत्र में सामुदायिक तनाव न पैदा हो जाए."

गुरुवार को दो समूहों के बीच हुई झड़प के बारे में बेहरा ने कहा, "ये हल्की झड़पें थी जिनपर पुलिस ने क़ाबू कर लिया था."

हरियाणा में जाट समुदाय ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) के तहत आरक्षण की मांग कर रहा है.

रोहतक, झज्जर, सोनीपत, भिवानी, हिसार, फ़तेहाबाद और ज़ींद ज़िलों तक प्रदर्शन फैल गए हैं.

गुरुवार को छात्रों ने बड़ी संख्या में रोहतक में प्रदर्शन किए.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार