बजट से क्या हैं उद्योग जगत की उम्मीदें?

इमेज कॉपीरइट PTI

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली सोमवार को लोकसभा में वर्ष 2016-17 का आम बजट पेश करेंगे.

इस बजट को लेकर उद्योग जगत को क्या उम्मीदें हैं यह जानने के लिए बीबीसी ने पांच अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने वाली कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों से बातचीत की.

1. इंफ्रास्ट्रक्चर- विपिन सोंधी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जेसीबी इंडिया
इमेज कॉपीरइट

निजी क्षेत्र का ख़र्च हो या फिर पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप की बात हो, ये आधारभूत ढांचे के विकास के लिए ज़रूरी हैं. हमें बजट से उम्मीद है कि पिछले साल की तरह इस बार भी सार्वजनिक उपक्रमों पर ज़्यादा पैसा ख़र्च किया जाएगा ताकि आधारभूत ढांचे के विकास को रफ़्तार दी जा सके.

2. विदेशी निवेश- साइरी चहल, संस्थापक शिरोज डॉट इन

मुझे उम्मीद है कि बजट में विदेशी निवेश को आकर्षित करने की कोशिश होगी. यह केवल नीतियों के आधार पर नहीं हो, बल्कि अनुपालन के स्तर पर भी होना चाहिए. विदेशों से आने वाले पैसों के हिसाब किताब की प्रक्रिया को सहज बनाने की ज़रूरत है.

3. ऊर्जा क्षेत्र- दीपक गर्ग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सैनी इंडिया
इमेज कॉपीरइट ALOK PRAKASH PUTUL

पावर के क्षेत्र में ध्यान देने की ज़रूरत है. माइनिंग के क्षेत्र में सरकार ने कोल ब्लॉक का फिर से आवंटन किया है. ये काफ़ी चुनौतीपूर्ण था, अब इनमें काम शुरू होने वाले हैं, तो देखना है कि सरकार इसको लेकर क्या-क्या करती है.

4. जीएसटी- अबांती संकरानारायण, बिज़नेस मैनेजर, यूनाइटेड स्प्रिटिस लिमिटेड

जीएसटी विधेयक को पास किए जाने की ज़रूरत है. सरकार को इसे राज्यसभा से पारित कराना चाहिए. तब जाकर अलग-अलग तरह के टैक्सों से लोगों को छुटकारा मिलेगा.

5. स्टार्टअप्स- जालक जोबानपुत्रा, फाउंडिंग पार्टनर, फ्यूचर परफैक्ट वेंचर

मुझे उम्मीद है कि सरकार अपने बजट में इनोवेशन और टेक्नॉलॉजी पर ध्यान देगी. स्टार्टअप्स में भारतीय युवा दुनिया भर में अच्छा कर रहे हैं. वे भारत में अच्छा करें इसके लिए सरकार को ध्यान देना होगा. उन्हें फंड और तकनीकी सहायता मुहैया कराने पर ज़ोर देना होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार