जर्मन युवती का आरोप, दिल्ली में हुआ 'बलात्कार'

  • 27 फरवरी 2016
रेप पीड़ित

जर्मनी की एक युवती ने आरोप लगाया है कि 2015 दिसंबर में दिल्ली में एक ऑटो ड्राइवर ने उनका बलात्कार किया. युवती ने ड्राइवर और उसके साथियों पर मारपीट का आरोप भी लगाया है.

दिल्ली महिला आयोग ने यह जानकारी दी है. आयोग के मुताबिक़ पीड़ित युवती ने इस बारे में दिल्ली महिला आयोग को 5 फरवरी को ईमेल भेजकर शिकायत की. आयोग के कहने पर ये युवती 19 फरवरी को आयोग के सामने आई.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने बीबीसी को बताया, "पीड़ित ने हमें ईमेल के ज़रिए जानकारी दी थी जिसके बाद हमने उसे शिकायत दर्ज करवाने के लिए वापस दिल्ली बुलाया था. एक चैरिटी के साथ काम करने भारत आई पीड़ित का आरोप है कि ऑटो वाले ने उसके साथ बलात्कार किया."

स्वाति मालिवाल के मुताबिक़ दिल्ली पुलिस ने घटना की एफ़आईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. उनके मुताबिक़ पीड़ित को हर मदद मुहैया कराई जा रही है.

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता राजन भगत ने एफ़आईआर की जानकारी होने से इनकार करते हुए कहा, "अभी हमारे पास इस संबंध में जानकारी नहीं है."

आयोग के मुताबिक पीड़ित ने बताया," वो रात के वक्त अपने होटल से निकली और रास्ता भटक गई. उसने एक ऑटो चालक से रास्ता पूछा. "

युवती का आरोप है, "ऑटो चालक ने होटल पहुंचाने के बजाए एक अंधेरे इलाके में उनके साथ मारपीट की और रेप किया."

युवती का कहना है कि वो किसी तरह वहां से निकली और दूसरी गली में पहुंची. वो ड्राइवर यहां भी पहुंच गया. इस बार उसके साथ कुछ और लोग भी थे जो ऑटो में बैठे थे. उन लोगों ने उनके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

युवती के मुताबिक़ जब वो फुटपाथ पर बैठी हुई थी तो घर लौटते एक व्यक्ति ने बिना कुछ पूछे उन्हें होटल तक छोड़ा.

युवती के मुताबिक वो इतना डरी हुई थी कि पुलिस के पास नहीं गई. जब उन्होंने आयोग से संपर्क किया तो आयोग ने उन्हें दिल्ली आने और पुलिस के पास मामला दर्ज कराने को कहा.

महिला आयोग के मुताबिक पीड़ित युवती 19 फरवरी को आयोग के सामने पहुंची और 20 फरवरी को पुलिस में शिकायत दी. उसी दिन पुलिस ने उसका मेडिकल भी कराया.

आयोग ने बताया है कि पुलिस ने आयोग की प्रमुख स्वाती मालिवाल के डीसीपी सेंट्रल को दिए नोटिस के बाद 24 फरवरी को प्रसाद नगर थाने में एफआईआर दर्ज की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार