गुजरात में हाई अलर्ट, एनएसजी स्टैंडबाई पर

  • 6 मार्च 2016
कमांडो इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

गुजरात में चरमपंथी हमलों की आशंका के मद्देनज़र हाई अलर्ट घोषित की गई है और एनएसजी की टीमों को स्टैंडबाई पर रखा गया है.

स्थानीय पत्रकार अंकुर जैन के मुताबिक़ ख़ुफ़िया एजेंसियों का मानना है कि चरमपंथियों का मकसद महाशिवरात्रि के दौरान राज्य में गड़बड़ी फैलाना है.

गुजरात के गृह राज्य मंत्री रजनी पटेल ने बीबीसी को बताया कि एनएसजी की तीन टीमें गुजरात पहुंच चुकी हैं और उन्हें स्टैंडबाई पर रखा गया है.

उन्होंने कहा, "गुजरात में अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ के बारे में शनिवार को हमें एक ख़ुफ़िया अलर्ट भेजा गया था. पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी लगातार स्थिति पर नज़र बनाए हुए हैं."

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

सभी संवेदनशील स्थानों, पूजा स्थलों और भीड़भाड़ वाली जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. साथ ही सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है.

सुबह से ही पुलिस मुख्य सड़कों पर गश्त कर रही है. गुजरात पुलिस के महानिदेशक पीसी ठाकुर ने पीटीआई को बताया कि कई जगहों पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है.

गृह सचिव पीके तनेजा की अगुवाई में शनिवार देर रात और रविवार तड़के कई उच्च स्तरीय बैठकें हुईं.

सोमनाथ मंदिर, द्वारका मंदिर, अक्षरधाम, बिजली संयंत्रों, सरदार सरोवर बांध और रक्षा प्रतिष्ठानों को अलर्ट पर रखा गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार