आठ साल बाद गांव लौटी 'औरत को जला दिया'

  • 7 मार्च 2016
ऑनर किलिंग इमेज कॉपीरइट Yogendra Singh Saabla

राजस्थान के आदिवासी डूंगरपुर जिले में प्रेम विवाह के आठ साल बाद गाँव लौटी एक महिला को ज़िदा जलाने का मामला सामने आया है.

पुलिस के अनुसार जिस महिला की मौत हुई है उसके सगे भाई समेत सात लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

पुलिस ने बीबीसी को बताया कि आसपुर थाना क्षेत्र में राजपूत बहुल गाँव में मृत युवती का रातोंरात अंतिम संस्कार भी कर दिया गया.

शुक्रवार रात को सूचना मिलने पर जब पुलिस पहुंची तो गांव में जिस चौराहे पर महिला को कथित तौर पर जलाया गया था वहाँ सिर्फ केरोसिन की गंध और घटनास्थल पर पड़ी रेत मिली.

इमेज कॉपीरइट Yogendra Singh Saabla

स्थानीय पुलिस अधिकारी रविशंकर ने बीबीसी को बताया कि मामले में तीन नामज़द लोगों सहित कुल 35 लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज हुआ है.

पुलिस का आरोप है कि तीस वर्षीय रामेश्वरी का राजपूत परिवार उसके एक पुजारी के परिवार में शादी करने से बेहद ख़फ़ा था.

वह शादी के बाद से ही अपने पति के साथ मुंबई में रह रही थी और आठ साल के बाद पहली बार गुरूवार को अपनी तीन साल की बच्ची के साथ गाँव लौटी थी.

इमेज कॉपीरइट Yogendra Singh Saabla

घटना के वक़्त वह अपने ससुराल में थी. मृतका की सास कलावती ने पुलिस में दायर रिपोर्ट में कहा कि उनकी बहू को उसके पीहर वाले मारते-पीटते हुए चौराहे पर ले गए और आग लगा दी.

इस शिकायत के मुताबिक लड़के के परिवार को भी बहुत डराया-धमकाया गया.

पुलिस गाँव में गश्त कर रही है और अन्य अभियुक्तों की तलाश जारी है.

लड़के का परिवार डर से गाँव छोड़कर दूर किसी रिश्तेदार के यहाँ चला गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)