ईपीएफ़ निकालने पर नहीं लगेगा टैक्स: जेटली

इमेज कॉपीरइट PIB

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को लोकसभा में कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ़) निकालने पर कर लगाने के प्रस्ताव वापस लेने की घोषणा की है.

उन्होंने यह प्रस्ताव बजट पेश करते रखा था. जेटली ने कहा कि वह इस नीति की समीक्षा करेंगे.

सरकार ने बजट के दौरान ईपीएफ़ से पैसा निकालते समय उसके 60 फ़ीसदी हिस्से पर कर लगाने की घोषणा की थी जिसका व्यापक विरोध हुआ था.

हालांकि बाद में सरकार ने यह स्पष्ट किया था कि पीपीएफ़ निकालने पर किसी तरह का कर नहीं देना होगा बल्कि बजट में जिस कर की बात हुई है वो ईपीएफ़ से मिलने वाले ब्याज पर लागू होगा.

इमेज कॉपीरइट AFPGetty Images

केंद्रीय राजस्व सचिव हसमुख आदिया ने कहा कि ईपीएफ़ पर टैक्स का प्रावधान एक अप्रैल, 2016 के बाद किया गया है और इससे पहले जमा किए गए पैसे और उस पर मिलने वाले ब्याज पर ये लागू नहीं होगा.

राजस्व सचिव ने कहा कि 1 अप्रैल, 2016 के बाद ये कर कर्मचारियों की तरफ़ से जमा कराए गए पैसे के 60 प्रतिशत हिस्से पर मिलने वाले ब्याज पर लागू होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार