अब फ़ाइटर विमान चलाएँगी भारतीय महिलाएं

इमेज कॉपीरइट AFP

भारतीय वायुसेना इस साल जून में पहली बार लड़ाकू विमानों के लिए महिला पायलटों को भी फ़ोर्स में शामिल करेगा.

वायुसेना प्रमुख अरूप साहा ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि तीन महिला पायलटों की ट्रेनिंग ख़त्म होने के बाद उन्हें 18 जून को शामिल किया जाएगा.

राहा ने कहा, "हमने महिला पायलटों को वायुसेना में 1991 में शामिल किया गया था. लेकिन अब तक वो केवल हेलीकॉप्टर और दूसरे विमान ही उड़ा रही थीं."

उन्होंने बताया, "मैं इसके लिए रक्षा मंत्री को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने वायुसेना की इस अपील को मंज़ूर किया है."

इमेज कॉपीरइट AFP

पिछले महीने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इसकी घोषणा की थी. भारत में सशस्त्र बलों में महिलाओं की हिस्सेदारी केवल 2.5 प्रतिशत है वो भी केवल गैर लड़ाकू भूमिकाओं में.

हालाँकि वर्ष 2014 में राहा ने कहा था, "प्राकृतिक रूप से महिलाएं लंबे वक़्त तक लड़ाकू विमान उड़ाने में सक्षम नहीं होती हैं. ख़ासतौर पर जब वो गर्भवती हों या स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत हो."

लेकिन पिछले साल अक्तूबर में उन्होंने कहा था कि वायुसेना महिलाओं को लड़ाकू भूमिकाओं में लाने पर विचार कर रहा है. पाकिस्तान में पहले से लड़ाकू विमानों के लिए 20 महिला पायलट हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)