जुर्माना भरने को तैयार नहीं श्री श्री रविशंकर

  • 10 मार्च 2016
वर्ल्ड कल्चर फ़ेस्टिवल इमेज कॉपीरइट Reuters

आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर दिल्ली के यमुना तट पर प्रस्तावित ‘वर्ल्ड कल्चर फ़ेस्टिवल’ कार्यक्रम पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के लगाए जुर्माने के फ़ैसले से संतुष्ट नहीं हैं और इसके ख़िलाफ़ अपील करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Other

'आर्ट ऑफ़ लिविंग' के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने एक ट्वीट में कहा, "हम इस निर्णय से संतुष्ट नहीं हैं. हम अपील करेंगे. सत्यमेव जयते!"

इससे पहले, उन्होंने दो और ट्वीट कर कार्यक्रम से दिल्ली में जन्नत उतारने का दावा किया था.

इमेज कॉपीरइट Other

एनजीटी ने बुधवार को आर्ट ऑफ़ लीविंग फ़ाउंडेशन पर पर्यावरण क्षतिपूर्ति के लिए 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाते हुए कार्यक्रम को कराने की इजाज़त दे दी थी.

एनजीटी का कहना था कि कार्यक्रम जारी रह सकता है, लेकिन कार्यक्रम शुरू करने से पहले फाउंडेशन को जुर्माने की राशि जमा करानी होगी. फ़ाउंडेशन को इस इलाके को बायोडाइवर्सिटी पार्क के रूप में विकसित करने के लिए भी कहा गया है.

इमेज कॉपीरइट Vineet Khare

दिल्ली में यमुना नदी के तट पर 11 से 13 मार्च तक ‘वर्ल्ड कल्चर फ़ेस्टिवल’ आयोजित किया जा रहा है जिसमें कई देशों से हज़ारों लोगों के शामिल होने की उम्मीद है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार