रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू से हटे माल्या

विजय माल्या इमेज कॉपीरइट Reuters

विजय माल्या ने रॉयल चैलेंजर्स स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक के पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. आईपीएल की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) का मालिकाना हक़ इस कंपनी के पास है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से कहा कि आरसीबी ने बीसीसीआई को एक ख़त लिखकर माल्या के इस्तीफ़े की जानकारी दी.

पीटीआई के अनुसार आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल को मार्च 7 को फ्रैंचाइज़ के अधिकारी रसेल एडम्स का एक ईमेल मिला था जिसमें फ्रैंचाइज़ के वर्तमान मालिकाना हक़ के बारे में बताया गया था. अब उनके बेटे सिद्धार्थ माल्या आरसीएसपीएल में निदेशक होंगे.

इससे पहले गुरुवार को विजय माल्या की लंबे समय से बंद पड़ी किंगफ़िशर एयरलाइन्स के मुख्यालय, किंगफ़िशर हाउस, की नीलामी में इमारत का कोई ख़रीददार नहीं मिला है.

इमेज कॉपीरइट PTI

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार विले पार्ले में मुंबई डॉमेस्टिक एयरपोर्ट के पास स्थित 17,000 स्क्वेयर फ़ीट की इस प्रॉपर्टी की इलेक्ट्रॉनिक-नीलामी एसबीआईकैप्स ट्रस्टी करवा रहे थे पर उन्हें कामयाबी नहीं मिली.

इस प्रॉपर्टी को फ़रवरी 2015 में स्टेट बैंक के नेतृत्व में 17 बैंकों के एक कंसोर्टियम ने टेकओवर कर लिया था. इन बैंकों का एयरलाइंस पर 9,000 करोड़ रुपये बकाया है.

बैंकों के बकाया वसूलने की कोशिशें तेज़ करने के बाद एयरलाइन के मालिक विजय माल्या इस महीने की शुरुआत में देश से बाहर हैं. वो कहते हैं कि वो देश छोड़कर नहीं भागे हैं, हालाँकि प्रवर्तन निदेशालय ने उन्हें 18 मार्च या उससे पहले एक मामले में पेश होने को कहा है.

उधर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को इस पर कोई स्पष्ट टिप्पणी नहीं की कि सरकार विजय माल्या को भगोड़ा मानती है या नहीं. उन्होंने कहा कि विजय माल्या ने सरकारी बैंकों का जो भी पैसा देना है उसकी पाई-पाई वसूली जाएगी.

इमेज कॉपीरइट EPA

जेटली ने कहा, "सारे तथ्य एकदम साफ़ हैं. सरकारी एजेंसियां उनके ख़िलाफ़ सख़्त कदम उठाएगी. बैंक उनसे पाई-पाई वसूलने के लिए पूरा ज़ोर लगाएंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार