गूगल के लिए 'एंटी नेशनल' मतलब

जवाहर लाल नेहरू यूनीवर्सिटी के समर्थन में प्रदर्शन

इंटरनेट सर्च इंजन गूगल की मैप सेवा 'गूगल मैप्स' पर यदि आप 'एंटी नेशनल' सर्च करेंगे तो यह आपको दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय का रास्ता बताएगा.

'सेडिशन' सर्च करने पर भी गूगल जेएनयू का ही रास्ता बता रहा है. हालांकि गूगल ने इसे तकनीकी खामी करार दिया है.

इमेज कॉपीरइट Other
Image caption गूगल मैप्स में एंटी नेशनल या सेडिशन सर्च करने पर जेएनयू का रास्ता बताया जा रहा है.

जेएनयू छात्रसंघ की उपाध्यक्ष शेहला रशीद ने बीबीसी को बताया, "हमने गूगल के अधिकारियों से बात की है. उनका कहना है कि ये तकनीकी खामी है जिसे जल्द ठीक करने की कोशिश की जा रही है."

हालांकि ये पहली बार नहीं है जब ऐसे किसी विवाद में जेएनयू का नाम आया है.

जेएनयू हाल ही में विश्वविद्यालय परिसर में लगे विवादित नारों को लेकर चर्चा में रहा है.

इमेज कॉपीरइट AFP

छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार समेत कुछ छात्रों पर देशद्रोह का मुक़दमा भी दर्ज हुआ है.

कन्हैया कुमार, उमर ख़ालिद और अनिर्बान नाम के छात्रों को जेल भी जाना पड़ा है. फिलहाल ये तीनों अंतरिम ज़मानत पर बाहर हैं.

इमेज कॉपीरइट Other
Image caption गूगल पर अभी भी टॉप 10 क्रिमनल्स सर्च करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर सबसे पहले दिखाई देती है.

बीते साल जून में गूगल उस समय विवादों में आया था जब 'टॉप 10 क्रिमिनल्स' सर्च करने पर मिल रहे नतीजों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिख रहे थे.

बाद में गूगल ने इसके लिए माफ़ी भी मांगी थी.

तब गूगल ने एक बयान में कहा था, "ये नतीजे हमें परेशान करते हैं और ये गूगल के विचारों को नहीं दर्शाते. कभी-कभी जिस तरह से तस्वीरों को इंटरनेट पर परिभाषित किया जाता है, उसकी वजह से कई विशेष सवालों के हैरान करने वाले नतीजे मिल सकते हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार