पाक जांच टीम में आईएसआई अफ़सर क्यों?

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption नई दिल्ली पहुँची पाकिस्तानी जाँच टीम के सदस्य

पठानकोट हमले की जाँच के सिलसिले में पाकिस्तानी टीम के भारत पहुँचने पर कांग्रेस पार्टी ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दिल्ली में एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सरकार ने पाकिस्तानी जाँच टीम के स्वागत में रेड कार्पेट बिछा रखी है.

सुरजेवाला ने सवाल किया है कि पाकिस्तानी जाँच टीम में वहाँ की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई के सदस्य को क्यों शामिल किया गया है?

इस पांच सदस्यीय पाकिस्तानी टीम में आतंकवाद निरोधी विभाग और ख़ुफ़िया एजेंसियों के अधिकारी शामिल हैं.

पाकिस्तानी पंजाब की सरकार के मुताबिक टीम मेें सिविल खुफिया एजेंसी आईबी के उप निदेशक मोहम्मद अज़ीम अरशद, आईएसआई के लेफ्टिनेंट कर्नल तनवीर अहमद, मिलिट्री इंटेलिजेंस लेफ्टिनेंट कर्नल इरफ़ान मिर्ज़ा और गुजरांवाला के आतंकवाद निरोधी विभाग के निरीक्षक शाहिद तनवीर को इस टीम में रखा गया है.

इमेज कॉपीरइट PIB

पंजाब प्रांत की सरकार ने जनवरी में भारत के पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले की जाँच के लिए संयुक्त जांच टीम बनाई थी.

19 फ़रवरी को गुजरांवाला के आतंकवाद निरोधक थाने में पठानकोट हमले पर एक एफआईआर दर्ज की गई थी. यह एफआईआर एक प्रतिबंधित संगठन के अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ दर्ज कराई गई थी.

उधर, भारत सरकार का कहना है कि पाकिस्तानी जांच दल को पठानकोट एयरबेस में जाने की इजाज़त नहीं होगी. उसे हमले से संबंधित कुछ इलाकों में ही जाने दिया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट AP

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार