जीएन साईँबाबा को सुप्रीम कोर्ट से जमानत

  • 4 अप्रैल 2016
प्रोफसर साईंबाबा इमेज कॉपीरइट Anjani

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जीएन साईंबाबा की ज़मानत मंजूर कर ली है. प्रोफेसर साईंबाबा पर राजद्रोह का आरोप है.

उन्हें मई 2014 में माओवादियों से संबंध रखने के आरोप में महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

महाराष्ट्र सरकार के वकील की ओर से जमानत का विरोध किए जाने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, " आपका अभियुक्त के प्रति रवैया अन्यायपूर्ण रहा है. खासकर उनकी शारीरिक स्थित को देखते हुए."

साईंबाबा व्हीलचेयर का इस्तेमाल करते हैं.

इमेज कॉपीरइट Anjani

पिछले साल जून में उन्हें बॉम्बे हाई कोर्ट ने इलाज कराने के लिए 50 हज़ार के निजी मुचलके पर तीन महीने की जमानत दी थी.

लेकिन हाईकोर्ट ने पिछले साल दिसंबर में उनकी जमानत रद्द करते हुए उन्हें आत्मसमर्पण करने को कहा था.

आत्मसमर्पण के बाद जीएन साईंबाबा के परिवार ने उनकी जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार