असम में वोटिंग का आख़िरी दौर आज

इमेज कॉपीरइट EPA

पूर्वोत्तर राज्य असम में दूसरे चरण के तहत सोमवार को विधानसभा की 61 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे.

असम में विधानसभा की कुल 126 सीटें हैं. इनमें से 65 सीटों पर प्रथम चरण के तहत 4 अप्रैल को मतदान हुआ था.

राज्य सरकार ने सोमवार को मतदान वाले सभी क्षेत्रों में सरकारी छुट्टी की घोषणा की है.

असम में यह अंतिम चरण का मतदान है और इन 61 सीटों में ज़्यादातर सीटें मुसलमान बहुल क्षेत्र में है, जहां अब तक कांग्रेस और मौलाना बदरूद्दीन अजमल की एआईयूडीएफ का दबदबा रहा है.

यहां राजनीतिक दलों ने बांग्लादेशी घुसपैठ के मुद्दे पर जमकर चुनावी अभियान चलाया है.

इसके अलावा भाजपा गठबंधन में शामिल असम गण परिषद और बोड़ो पीपल्स फ्रंट भी कई सीटों पर काफी मजबूत है. लिहाजा मुकाबला कांटे का बना हुआ है.

मुख्यमंत्री तरुण गोगोई इन्हीं अल्पसंख्यक मतदाताओं के बूते राज्य में लगातार चौथी बार सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं.

वहीं राजनीतिक विशेषज्ञों की राय में इस बार इन क्षेत्रों में मौलाना अजमल की पकड़ थोड़ी कमजोर बताई जा रही है.

लेकिन मौलाना पूरी तरह आत्मविश्वास में दिखाई दे रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि प्रदेश में उनकी मदद के बिना कोई भी पार्टी सरकार नहीं बना सकती.

चुनाव आयोग के अनुसार दूसरे चरण में 22 जिलों की 61 विधानसभा सीटों पर मतदान के लिए 12,699 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

कड़ी सुरक्षा के बीच 50,796 चुनाव अधिकारियों को नियुक्त किया गया है. दूसरे चरण में कुल 1,04,35,277 मतदाता हैं, जिसमें 50,44,051 महिला मतदाता है.

अंतिम चरण के इस मतदान में 525 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है. इनमें 477 जहां पुरूष उम्मीदवार है वहीं 48 महिला उम्मीदवार है.

इमेज कॉपीरइट EPA

दूसरे चरण में एआईयूडीएफ प्रमुख मौलाना अजमल, भाजपा के हिमंत विश्व शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री एंव असम गण परिषद के उम्मीदवार प्रफुल्ल कुमार महंत समेत कई दिग्गज मैदान में है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार