बंगाल में क्या खुलेगा बीजेपी का खाता?

  • 11 अप्रैल 2016

पश्चिम बंगाल में इस बार का विधानसभा चुनाव इस मायने में ख़ास है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पूरे दमख़म के साथ मैदान में उतरी है.

इसलिए सियासी लड़ाई और दिलचस्प हो गई है.

पश्चिम बंगाल में कुल 294 सीटों पर छह चरणों में चुनाव हो रहे हैं.

राज्य में पहले चरण का मतदान 4 अप्रैल को हो चुका है. इसमें 18 सीटों के लिए वोट डाले गए थे.

पहले चरण के दूसरे हिस्से में आज यानी 11 अप्रैल को 31 सीटों के लिए मतदान हो रहा है. चुनाव आयोग ने चार और अप्रैल के मतदान को एक चरण माना है.

दूसरे चरण का मतदान 17 अप्रैल को होगा. इसमें 56 सीटों पर मत डाले जाएंगे.

सबसे ज़्यादा 62 सीटों पर चुनाव तीसरे चरण में 21 अप्रैल को होगा. चौथे चरण के मतदान में 25 अप्रैल को 49 सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

पांचवें चरण का मतदान 30 अप्रैल को 53 सीटों के लिए होगा जबकि अंतिम और छठे चरण के लिए 5 मई को 25 सीटों पर मतदान होगा.

पश्चिम बंगाल की मौजूदा विधानसभा में तृणमूल कांग्रेस के पास 184 सीटें हैं.

कांग्रेस 42 विधायकों के साथ दूसरे स्थान पर है जबकि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के पास 40 विधायक हैं.

इस चुनाव के लिए कांग्रेस ने वामदलों के साथ गठबंधन किया है. 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान राज्य में कांग्रेस को चार लोकसभा सीटें मिली थीं.

वहीं दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी राज्य चुनाव को लेकर काफ़ी उत्साहित है. पश्चिम बंगाल विधानसभा में बीजेपी का खाता खुलना बाक़ी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार