'सुषमा ने भारत के सम्मान को ठेस पहुंचाई'

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती

द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की ईरान यात्रा के दौरान पहनी पोशाक पर सख़्त एतराज़ जताया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ शंकराचार्य ने मंगलवार को कहा कि ईरान यात्रा पर सुषमा स्वराज ने जिस पहनावे का चयन किया वो भारत के सम्मान के लिए धक्का है.

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी से मुलाक़ात के दौरान साड़ी पहने सुषमा स्वराज ने एक चादर से अपना सिर ढंका था.

सुषमा के इस पहनावे की सोशल मीडिया पर भी ख़ूब चर्चा हुई और लोगों ने इसे भारतीय संस्कृति का 'मज़ाक़' क़रार दिया.

इमेज कॉपीरइट AP

स्वरूपानंद ने कहा कि सुषमा ने जो पोशाक चुनी उसने ईरान की संवेदनाओं की तो क़द्र की लेकिन भारतीय परंपरा की अनदेखी की.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा, "स्वराज ने ईरान में जो कपड़े पहने वो ईरान की परंपरा के अनुसार थे लेकिन हमारी अपनी भारतीय परंपरा के ख़िलाफ़ थे. ऐसा करके उन्होंने विदेश में भारत के सम्मान को ठेस पहुँचाई."

स्वरूपानंद ने सुषमा स्वराज की तुलना इंदिरा गांधी से करते हुए कहा कि इंदिरा गांधी जब भी विदेश गईं उन्होंने भारतीयता को बरक़रार रखा.

इमेज कॉपीरइट PHOTO DIVISION

शंकराचार्य ने कहा कि इंदिरा गांधी ने हमेशा इस बात का ख़्याल रखा कि उनके कपड़ों और व्यवहार में भारतीयता दिखाई दे.

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के लिए विवादित बयान देना कोई नई बात नहीं है.

हाल ही में उन्होंने कहा था कि शनि शिगणापुर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश से बलात्कार जैसे अपराध बढ़ेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार