पानी लेने गया बच्चा कुएं में गिरा, मौत

  • 22 अप्रैल 2016
इमेज कॉपीरइट

महाराष्ट्र के सूखा प्रभावित बीड ज़िले में एक ग्यारह साल के बच्चे की कुएं में पैर फिसलने से डूबकर मौत हो गई.

ये लड़का पानी लेने कुएं में उतरा था.

टीवी पर एक तस्वीर दिखाई जा रही है कि जिसमें ग्रामीण सचिन केंगर नामक इस बच्चे को कुएं से ज़िंदा निकालने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं.

बीड में रविवार को ग्यारह साल की लड़की योगिता देसाई की लू लगने से तब मौत हो गई थी, जब वो गांव के पंप से पानी लेने के लिए लगातार चार घंटे 42 डिग्री तापमान में खड़ी रही थी.

इमेज कॉपीरइट

सरकार का कहना है कि देश के 256 ज़िले और 33 करोड़ लोग सूखे से प्रभावित हैं.

बीड सूखे से बुरी तरह प्रभावित है, इसके 1403 लोग पानी के बेहद गंभीर संकट से जूझ रहे हैं.

स्थानीय पत्रकार मनोज सतपुते ने बीबीसी को बताया कि केंगर साठ फीट गहरे कुएं से पानी निकालने की कोशिश कर रहा था.

उसकी मौत पानी निकालते समय कुएं में डूबने से हुई.

इमेज कॉपीरइट manoj satpute

उधर, बीड के ज़िलाधिकारी नवलकिशोर ने बीबीसी संवाददाता दिलनवाज़ पाशा से फ़ोन पर कहा, "कुएं में डूबने से बच्चे की मौत हुई है. जिस गांव की ये घटना है वहां प्रशासन ने टैंकरों के ज़रिए पानी की व्यवस्था की है. ये कहना ग़लत है कि बच्चा पानी निकालते वक़्त कुएं में डूबा. वो वहां खेल रहा था. कुएं की बाहर सुरक्षा के लिए दीवार नहीं है. इसमें परिजनों और गांववालों की भी लापरवाही है."

नवलकिशोर ने कहा, "गांव में पानी की समस्या है, हम ये बात स्वीकार करते हैं. मैंने स्वयं एक महीना पहले इस गांव का दौरा किया था और टैंकरों के ज़रिए पानी की व्यवस्था की थी."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार