वीगर नेता डॉल्कन ईसा का भारत वीज़ा रद्द

डॉल्कन ईसा इमेज कॉपीरइट Twitter

चीन के वीगरों के संगठन विश्व वीगर कांग्रेस के डॉल्कन ईसा ने कहा है कि भारत ने उन्हें जो वीज़ा दिया था, उसे रद्द कर दिया गया है.

ईसा ने बीबीसी संवाददाता विनीत खरे को टेलीफ़ोन पर हुई बातचीत में यह जानकारी दी.

वो एक अमरीकी एक ग़ैर-सरकारी संगठन की ओर से हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में 28 अप्रैल से आयोजित होने वाले सम्मेलन में हिस्सा लेने आने वाले थे.

इस सम्मेलन में चीन के विभिन्न गुटों के नेता भाग लेंगे.

इससे पहले उन्होंने कहा था कि वो भारत तभी आएंगे जब उन्हें भारत सरकार से लिखित में 'सुरक्षा' की गारंटी मिलेगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

जर्मनी के शहर म्यूनिख में मौज़ूद डॉल्कन ईसा ने शुक्रवार को कहा था, ''मेरा नाम इंटरपोल की सूची में है. इससे पहले मुझे समस्याएं पेश आ चुकी हैं. भारत एक लोकतांत्रिक देश है. मुझे इस बात की चिंता नहीं कि भारत आने पर मुझे गिरफ़्तार कर लिया जाए, लेकिन मुझे लगता है कि यात्रा से पहले सुरक्षा की गारंटी दी जानी चाहिए.''

चीन डॉल्कन ईसा को चरमपंथी मानता है. उनके खिलाफ़ इंटरपोल का रेड नोटिस है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ डॉल्कन ईसा की प्रस्तावित भारत यात्रा पर प्रतिक्रिया देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा था- "डॉल्कन चरमपंथी हैं. उनके खिलाफ़ इंटरपोल और चीन की पुलिस का रेड नोटिस है. सभी देशों का कर्तव्य है कि उन्हें सज़ा दी जाए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार