'अगस्ता घोटाला में शामिल बड़े लोगों को धरेंगे'

  • 6 मई 2016
अगस्ता वेस्टलैंड पर लोकसभा में चर्चा, मनोहर पर्रिकर इमेज कॉपीरइट PTI

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि सरकार उन लोगों का पता लगाने में कामयाब होगी जिन्होंने 3600 करोड़ रूपये के अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे में घोटाला किया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार पर्रिकर ने शुक्रवार को लोकसभा में कहा कि पूर्व वायू सेना प्रमुख एसपी त्यागी और गौतम खेतान तो 'छोटे नाम' जिन्होंने 'सिर्फ़ भ्रष्टाचार की बहती गंगा में हाथ धोए हैं' और 'सरकार ये पता लगाने की कोशिश करेगी कि ये नदी बहकर कहां जा रही है.'

कांग्रेस ने निकाला लोकतंत्र बचाओ मार्च

सदन में ध्यान आकर्षण प्रस्ताव पर बोलते हुए रक्षा मंत्री ने कांग्रेस की ये कहते हुए चुटकी ली कि 'लगता है इन्हें पता है कि गंगा कहां किस ओर बह रही है.'

उन्होंने कांग्रेस की तरफ़ इशारा करते हुए कहा 'आप क्यों चिंतित हैं? हमने किसी का नाम नहीं लिया है. लगता है कि आपको पता है कि गंगा बहकर किधर जा रही है.'

पर्रिकर ने कहा कि कांग्रेस ने घोटाले में जो कार्रवाई की थी वो हालात के दबाव में किए गए थे न कि स्वेच्छा से.

इमेज कॉपीरइट PTI

उन्होंने कहा कि जो वो बोफ़ोर्स घोटाले में नहीं कर पाए थे वो अगस्ता घोटाले में करके दिखाएंगे.

अगस्ता वेस्टलैंड हैलिकॉप्टर की ख़रीद को लेकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी दल कांग्रेस में ठनी है. और मामले पर सदन में लगातार हंगामा हो रहा है.

कांग्रेस ने इस मामले का ठीकरा एनडीए के सिर फोड़ते हुए इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में करवाने की मांग की और सदन से वॉकआउट कर दिया.

उधर सुप्रीम कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर उन लोगों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज करने का आदेश दिया है जिनके नाम अगस्ता वेस्टलैंड मामले में इतालवी अदालत के फ़ैसले में हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार