अगस्ता वेस्टलैंड- 'ख़रीद के मापदंड अटल के वक़्त बदले'

इमेज कॉपीरइट PA

संसद में अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाले पर कांग्रेस ने कहा है कि टेंडर के मापदंड में जो बदलाव किए गए थे वो भारतीय जनता पार्टी की अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के वक़्त में हुए थे.

राज्यसभा में अगस्ता वेस्टलैंड मामले पर बहस के दौरान कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने पार्टी का पक्ष रखा है.

उन्होंने कहा, "मापदंड में बदलाव अटल बिहारी वाजपेयी के प्रमुख सचिव ब्रजेश मिश्रा के सुझाव पर किए गए थे. इसके बाद ही हेलिकॉप्टर की ऊंचाई को 6000 मीटर से 4500 मीटर करने का निर्णय लिया गया था."

हालाँकि भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने इसे झूठ बताया और पलटवार करते हुए यूपीए सरकार और कांग्रेस पर कई आरोप लगाए हैं.

भारत के अगस्ता वेस्टलैंड से 12 हेलिकॉप्टर खरीदने के सौदे पर इटली के एक कोर्ट का आदेश आने के बाद से ये मामला सुर्खियों में है.

वर्ष 1999 में हेलिकॉप्टर खरीद की बात शुरु होने के बाद विभिन्न चरणों से गुज़र कर ये सौदा अगस्ता वेस्टलैंड के साथ 2005 में हुआ.

लेकिन 2012 में जब इस सौदे में रिश्वत दिए जाने की ख़बर इटली से आई तो तत्कालीन रक्षामंत्री एके एंटनी ने माना कि ऐसा हुआ है और इसकी जांच सीबीआई और ईडी की सुपुर्द कर दी.

बुधवार को राज्यसभा में कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी ने इतालवी कोर्ट के दस्तावेज़ों के हवाले से कहा, “जिन ओहदों और इनिश्यल का इस मामले में ज़िक्र किया गया है, उनके बारे में केवल इतना कहा गया कि ये वो वीआईपी हैं जो इन होलिकॉप्टरों का इस्तेमाल कर सकते हैं और इससे आगे कुछ नहीं कहा गया है.”

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बीजेपी सरकार और उसके नेता पूरे घोटाले में कांग्रेस की नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर आरोप लगा रहे हैं.

उन्होंने चुनौती दी कि यदि उनका बयान ग़लत पाया जाता है तो सत्तापक्ष उनके ख़िलाफ़ विशेषाधिकार प्रस्ताव ला सकता है.

कांग्रेस नेता ने कहा है कि भारतीय अदालत पहले ही ये तय कर चुकी है कि किसी डायरी में इनिश्यिल पाए जाने की क़ानून की नज़र में कोई अहमियत नहीं है और न ही उसके आधार पर किसी को दोषी ठहराया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption पूर्व वायु सेना प्रमुख एसपी त्यागी को मामले में पूछताछ के लिए सीबीई ने बुलाया है.

उन्होंने कहा कि एपी-एपी कहा जा रहा है और ये भी कहा जा रहा है कि ये अहमद पटेल का ज़िक्र है. उन्होंने सवाल उठाया कि ये गुजरात की मुख्यमंत्री के भी इनिश्यल हैं.

सिंघवी ने कहा, “कांग्रेस की सरकार ने तीन हेलिकॉप्टर ज़ब्त किए, दो हज़ार करोड़ नकदी वापस लिया और सीबीआई और ईडी को मामले की जांच करने के लिए कहा."

उनका कहना था कि जो आरोप इस मामले में लगाए जा रहे हैं वो सिर्फ़ इसलिए कि बीजेपी एक ख़ास व्यक्ति को बदनाम करना चाहती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार