सिंहस्थ में साध्वी प्रज्ञा ने लगाई डुबकी

मालेगांव बम धमाका मामले में एनआईए से क्लीन चिट पाने के बाद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर बुधवार को उज्जैन सिंहस्थ पहुंची और वहां स्नान किया.

इसी के साथ उनका दो दिनों से चल रहा आमरण अनशन ख़त्म हो गया है.

हालांकि अदालत ने इस पूरे मामले में एनआईए की ताज़ा चार्जशीट पर अभी अंतिम निर्णय लेना है.

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर भारी सुरक्षा के बंदोबस्त के बीच बुधवार की दोपहर भोपाल से उज्जैन के लिए एंबुलेंस में रवाना हुईं.

साध्वी प्रज्ञा ने उज्जैन जाने की मांग को लेकर न केवल अनशन किया था बल्कि चेतावनी दी थी यदि उन्हें कुंभ जाने नहीं दिया गया तो वो जान दे देंगी.

इमेज कॉपीरइट S Niazi

भोपाल से निकलने से पहले मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, "कोर्ट पर मुझे पूरा भरोसा है. मैं निर्दोष पाई जाऊंगी.”

मंगलवार को देवास अदालत ने साध्वी प्रज्ञा को सिंहस्थ में ले जाने का आदेश जारी किया था. अदालत ने कहा था कि 21 मई को सिंहस्थ समाप्त होने से पहले उन्हें उज्जैन ले जाया जाए.

साध्वी प्रज्ञा का इलाज भोपाल के खुशीराम आयुर्वेदिक चिकित्सालय में चल रहा है.

साध्वी कैंसर की मरीज हैं और उज्जैन जाने की मांग करते हुए उन्होंने दवाएं भी लेना छोड़ दिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)