रिकॉर्डतोड़ गर्मी में भट्टी की आग से जुगलबंदी

फलौदी में गर्मी इमेज कॉपीरइट Murarilal Thanvi

चढ़ते पारे के बीच आप और हम जहां पिघलने लगते हैं, वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो 51 डिग्री सेल्सियस में भट्टी की आग के सामने मज़े से डटे रहते हैं.

हम बात कर रहे हैं राजस्थान के फलोदी की जहां भारत में अब तक का सर्वाधिक तापमान 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

एक सवाल ये भी है कि इतनी गर्मी में वहाँ के लोग करते क्या होंगे. फलोदी में रहने वाले समाजसेवी मुरारीलाल थानवी के पास इस सवाल के कई जवाब हैं.

इन्हीं में से एक जवाब है फलोदी के पुराने प्रसिद्ध हलवाई भइया भाभा की दुकान.

मुरारीलाल थानवी जब उनकी दुकान में पहुँचे तो उन्होंने देखा कि वहाँ काम करने वाले कँवरलाल जोशी अपने काम में मगन हैं.

इतने मगन कि 51 डिग्री सेल्सियस की गर्मी में सुलगती भट्टी पर भुजिया, पकौड़े और लड्डू बना रहे हैं.

आग की लपटों और धुएँ के बीच तस्वीर खींचते मोबाइल को जैसे लू लग जाती है और वो कुछ देर के लिए काम करना बंद कर देता है.

लेकिन कँवरलाल जोशी का मिशन भुजिया-पकौड़े-लड्डू जारी रहता है. युवा हलवाई मनोज पंचारिया इस काम में उनका पूरा साथ देते हैं.

इमेज कॉपीरइट Murarilal Thanvi

मुरारीलाल थानवी कहते हैं, "भीषण गर्मी का शहर के आम जनजीवन पर असर दिख रहा है लेकिन जो काम करने वाले लोग हैं वो अपने कामों में लगे हैं."

वे कहते हैं, "अख़बारों और सोशल मीडिया पर गर्मी की चर्चा से थोड़ा सनसनी तो ज़रूर है लेकिन बाकी ज़िंदगी अपनी तरह से चल रही है."

मुरारीलाल थानवी ने ये तस्वीरें फ़ेसबुक पर साझा की है, जिसे बड़ी संख्या में लोगों ने शेयर किया है.

उन्होंने अपने पोस्ट के आख़िर में लिखा है- तेज़ तापमान की इस दुनिया में इस तरह का काम करने वालों को सलाम.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार