रिकॉर्डतोड़ 51 डिग्री सेल्सियस तापमान

  • 20 मई 2016
फलौदी में गर्मी इमेज कॉपीरइट Murarilal Thanvi

गुरुवार को राजस्थान के फलौदी में तापमान 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

ये भारत में अब तक का दर्ज किया गया सबसे ज़्यादा तापमान है.

इससे पिछला रिकॉर्ड 60 साल पहले 50.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि आगे भी गर्मी का कहर जारी रहेगा.

फलौदी में रहने वाले समाजसेवी मुरारीलाल थानवी ने बीबीसी को बताया, "सुबह की धूप से ही अहसास हो गया था कि आज का दिन बहुत गर्म रहने वाला है."

थानवी बताते हैं, "भीषण गर्मी का शहर के आम जनजीवन पर असर दिख रहा है लेकिन जो काम करने वाले लोग हैं वो अपने कामों में लगे हैं."

उन्होंने बताया, "जो काम पर निकलते हैं वो थोड़ा एहतियात बरत रहे हैं. सिर ढककर घर से बाहर निकल रहे हैं. बाकी लोग कोशिश कर रहे हैं कि घरों के भीतर ही रहें."

क्या प्रशासन ने गर्मी से बचाव की कुछ कोशिशें की हैं, इस पर थानवी बताते हैं, "हमने अख़बार में पढ़ा है कि प्रशासन ने इस संबंध में बैठक की है लेकिन ज़मीनी स्तर पर गर्मी से बचाव की कोई सरकारी कोशिश अभी नहीं दिख रही है."

थानवी बताते हैं, "अख़बारों और सोशल मीडिया पर गर्मी की चर्चा से थोड़ा सनसनी तो ज़रूर है लेकिन बाकी ज़िंदगी अपनी तरह से चल रही है."

स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक इलाक़े में गर्मी से कुछ लोगों की मौत भी हुई है.

इमेज कॉपीरइट Murarilal Thanvi

थानवी बताते हैं, "तीन दिन पहले गर्मी से एक मज़दूर की मौत के बारे में ख़बर प्रकाशित हुई थी. इसकी शहर में चर्चा भी हुई."

वे बताते हैं, ऐसी ख़बरों के बाद बच्चों और बुज़ुर्गों को बचाने पर ख़ास ध्यान दिया जा रहा है.

मुरालील थानवी ने स्थानीय हलवाई कंवर लाल जोशी की जलती ही भट्टी के साथ तस्वीर भी फ़ेसबुक पर पोस्ट की थी.

हमने जब गर्मी के बारे में कंवरलाल जोशी से पूछा तो उनका कहना था, "हमारे लिए ये रोज़ का काम है इसलिए हमें गर्मी का अहसास नहीं हुआ. हाँ, बाक़ी लोगों पर इसका असर दिख रहा है. सड़के खाली हैं. ग्राहक भी अब सामान ख़रीदकर तुरंत चले जाते हैं."

सिर्फ़ राजस्थान ही नहीं, भारत के कई अन्य इलाक़े भी इस समय भीषण गर्मी झेल रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार