बिग बी पर कांग्रेस का सीधा हमला

अमिताभ बच्चन इमेज कॉपीरइट AFP

मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर हो रहे कार्यक्रम में अमिताभ बच्चन के मंच साझा करने पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं.

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सरकार के दो साल पूरे होने पर एक ऐसे कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं जिसे वरिष्ठ फ़िल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन होस्ट या शायद इसकी अगुवाई कर रहे हैं."

हालांकि अमिताभ बच्चन ने एक अंग्रेजी समाचार चैनल से बात करते हुए कहा, "उस कार्यक्रम को होस्ट आर माधवन कर रहे हैं और वो केवल बेटी 'बचाओ बेटी बढ़ाओ' के एक छोटे से सेगमेंट में हिस्सा ले रहे हैं."

उन्होंने कहा कि वो संयुक्त राष्ट्र के गर्ल चाइल्ड मिशन से जुड़े हैं और इसलिए इसलिए इस सेगमेंट का हिस्सा हैं.

बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के मीडिया प्रभारी ने सवाल किया, "मोदी ने देश की जनता को काला धन वापस लाने का वादा किया था और इसी के सहारे वो दो साल पहले सत्ता में आए थे, वो ऐसे कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं जिसे एक ऐसा शख्स होस्ट कर रहा है या उसकी अगुवाई कर रहा है या उसमें शामिल है, जिसका नाम टैक्स चोरी कर विदेशों में धन जमा करने वालों की सूची में सामने आया है."

बच्चन न सिर्फ़ कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं, बल्कि बच्चन और नेहरू-गांधी परिवारों में कभी बहुत निकटता भी रही है.

अमिताभ बच्चन की गांधी परिवार से पिछले दिनों में दूरी नज़र आती रही है लेकिन ये पहली बार है कि सोनिया गांधी के नेतृ्त्व वाली कांग्रेस पार्टी ने बच्चन पर सीधा हमला किया है.

इमेज कॉपीरइट twitter

पिछले दिनों पत्रकारों की एक अंतरराष्ट्रीय संस्था ने पनामा पेपर्स नामक की एक रिपोर्ट में दुनिया भर के उन लोगों के नामों को उजागर किया था, जिन्होंने विदेशों में धन जमा कर रखा है.

इस सूची में बच्चन और उनके परिवार के कुछ सदस्यों के भी नाम थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

अमिताभ बच्चन कांग्रेस के टिकट पर इलाहाबाद से चुनाव भी लड़ चुके हैं. हालाँकि इसके बाद उन्होंने राजनीति से कुछ दिनों तक दूरी बना ली थी.

दोनों परिवारों के बीच दशकों पुराना रिश्ता रहा है, हालांकि पिछले 15-20 सालों से उनके रिश्तों में वो गर्माहट नहीं रही, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे के बारे में कुछ भी बोलने से परहेज किया है.

लगता है, कांग्रेस के इस बयान और बच्चन की सफ़ाई आने के बाद दोनों के बीच यह समझौता टूट गया है.

इमेज कॉपीरइट PIB

जब से मोदी सरकार केंद्र में आई है, कई मौक़ों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनकी नज़दीकियां दिखी हैं.

वो गुजरात के ब्रांड अम्बेसडर भी रहे हैं.

इस पूरे विवाद पर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता शहनवाज़ हुसैन ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा, "कांग्रेस जिस तरह की हरकत कर रही है, उसे और दिक्क़त आने वाली है. देश की जनता उसे सत्ता के लायक़ नहीं समझती पर वो विपक्ष के लायक़ भी नहीं रहे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार