जो देश को लूट रहे थे, बस वो ख़ुश नहीं: मोदी

  • 29 मई 2016
इमेज कॉपीरइट DD News

केंद्र में मोदी सरकार के दो साल पूरे होने के मौक़े पर शनिवार को दिल्ली में इंडिया गेट पर एक ख़ास कार्यक्रम 'एक नई सुबह' आयोजित किया गया है.

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार की उपब्लधियों को गिनाया और विरोधियों पर निशाना साधा. पेश हैं उनके भाषण की दस अहम बातें.

  1. सुशासन के लिए ज़रूरी है कि सरकार अपने नागरिकों पर भरोसा करे.
  2. भ्रष्टाचार ने भारत और इसके नागरिकों के सपनों को बर्बाद किया है.
  3. हमें विपक्ष इसलिए भी निशाना बनाता है क्योंकि हमने उनके भ्रष्टाचार के स्रोतों को बंद कर दिया है.
  4. इस बात से कोई इनकार नहीं करेगा कि पिछली सरकार भ्रष्टाचार में डूबी थी और फिर हम सत्ता में आए और हमारा ज़ोर भ्रष्टाचार को ख़त्म करने पर है.
  5. जो पहले देश को लूट रहे थे, वहीं लोग इस सरकार से ख़ुश नहीं हैं.
  6. अगले तीन साल में हम पांच करोड़ लोगों तक एलपीजी कनेक्शन पहुंचा देंगे.
  7. अगर मैं सरकार की सारी उपलब्धियों को बताने की कोशिश करूं तो इन दूरदर्शन वालों को यहां एक हफ़्ता तक रुकना पड़ेगा.
  8. लोकतंत्र में सबके काम का विश्लेषण होना चाहिए, लेकिन हम निराशा का माहौल तैयार करने की ग़लती नहीं कर सकते हैं.
  9. पिछले दिनों हमने दो चीजें देखी हैं, एक तरफ़ विकासवाद है और दूसरी तरफ़ विरोधवाद है.
  10. एलईडी बल्ब के लिए अपने अभियान के कारण हमने 20 हजार मेगावाट बिजली बचाई है लेकिन ये बात ख़बर नहीं बनती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार