'1 रुपए में 40 लीटर पेट्रोल, 60 लीटर डीज़ल'

  • 3 जून 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

मथुरा के जवाहर बाग की हिंसा से सुर्खियों में आए आज़ाद भारत विधिक वैचारिक क्रांति सत्याग्रही समूह का दावा है कि वो नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अनुयायी हैं.

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद जब पुलिस गुरुवार को मथुरा में जवाहर बाग से कब्जा हटाने गई तो इसका विरोध हुआ था. हिंसा भड़की और इसमें दो पुलिस अफ़सरों समेत 24 लोग मारे गए.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार बाबा जयगुरुदेव से कथित तौर पर अलग हुए इस समूह की मांगे भी अजीबोगरीब हैं.

इस समूह की मांगों में भारत के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का चुनाव रद्द करना और वर्तमान भारतीय करेंसी को हटाना शामिल है.

इमेज कॉपीरइट AFP

उनकी कुछ और मांगें तो और भी अजीब हैं. जरा देखिए.

एक रुपए में 40 लीटर पेट्रोल मिले.

एक रुपये में 60 लीटर डीज़ल मिले.

वर्तमान मुद्रा बंद हो और इसकी जगह 'आज़ाद हिंद फ़ौज करेंसी' शुरू की जाए.

संविधान से गठित मौजूदा गणराज्य को अवैध घोषित किया जाए.

आज़ाद हिंद फ़ौज के क़ानून मानें जाएं. इसकी ही सरकार देश पर शासन करे.

जय गुरुदेव का मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया जाए.

देश में अंग्रेजों के जमाने से चल रहे क़ानून खत्म किए जाएं.

देश में सोने के सिक्के प्रचलन में लाए जाएं.

इनकी मांग थी भष्ट्राचार पर काबू करने के लिए चांदी सोने के सिक्के चलाए जाएं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार