नहीं रहे भारत के पहले मिस्टर यूनिवर्स

इमेज कॉपीरइट PM Tiwari

भारत के पहले मिस्टर यूनिवर्स और जाने-माने बॉडी बिल्डर मनोहर आइच का रविवार को कोलकाता में निधन हो गया.

कुछ समय से बीमार चल रहे आइच 104 साल के थे. आइच की पत्नी का निधन पहले ही हो चुका है. उनके परिवार में दो बेटे और दो बेटियां हैं.

उन्होंने कोलकाता के बागुईहाटी स्थित अपने आवास में ही अंतिम सांस ली.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के अलावा खेल जगत की तमाम जानी-मानी हस्तियों ने आइच के निधन पर शोक जताया है.

इमेज कॉपीरइट others

अविभाजित भारत के कोमिल्ला जिले (अब बांग्लादेश में) जन्मे मनोहर वर्ष 1942 में रॉयल इंडियन एअर फोर्स में शामिल हुए थे.

एक ब्रितानी अधिकारी आर मार्टिन के प्रोत्साहन पर उन्होंने बॉडी बिल्डिंग पर ध्यान देना शुरू किया. वर्ष 1950 में 36 साल की उम्र में उन्होंने मिस्टर हरक्यूलस प्रतियोगिता जीती थी.

उसके अगले ही साल वो मिस्टर यूनिवर्स प्रतियोगिता में दूसरे स्थान पर रहे थे. लेकिन वर्ष 1952 में उन्होंने यह ख़िताब जीत लिया.

अपने चार फीट 11 इंच लंबे क़द की वजह से लंदन के लोगों ने उनको ‘पाकेट हरक्यूलस’ नाम दिया था.

उनका कहना था कि अगर आप रोज़ाना कसरत करें तो कभी बीमार नहीं पड़ सकते.

आइच ने वर्ष 1991 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर लोकसभा चुनाव भी लड़ा था. तब उनको 1.63 लाख वोट मिले थे और वे तीसरे स्थान पर रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)