अफ़ग़ानिस्तान: हमले में अमरीकी पत्रकार की मौत

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के नेशनल पब्लिक रेडियो का कहना है कि दक्षिण अफ़ग़ानिस्तान के हेलमंद प्रांत में हुए हमले में अमरीका के एक फ़ोटोजर्नलिस्ट और उनके अनुवादक की मौत हो गई है.

एनपीआर के अनुसार फ़ोटोजर्नलिस्ट डेविड गिलके और उनके अनुवादक ज़बीउल्लाह तमन्ना अफ़ग़ान सेना के साथ सफ़र कर रहे थे.

एनपीआर के मुताबिक उनकी गाड़ी पर बारूद का एक गोला गिरा और गाड़ी आग की चपेट में आ गई.

इस हमले में गाड़ी चला रहे ड्राइवर की भी मौत हो गई. वो अफ़ग़ान सैनिक थे. एनपीआर नेटवर्क ने एक बयान जारी कर कहा है कि एनपीआर के दो और कर्मचारी भी उनके साथ यात्रा कर रहे थे, लेकिन वे सुरक्षित हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

एनपीआर ने बताया कि डेविड(50) और तमन्ना(38) की गाड़ी उस समय गोला-बारी की चपेट में आई जब वे मारजाह शहर के क़रीब यात्रा कर रहे थे.

एनपीआर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष माइकल ओरेस्क्स ने कहा कि डेविड 9/11 हमले के बाद से ही इराक़ और अफ़ग़ानिस्तान में युद्ध और संघर्ष को कवर कर रहे थे.

डेविड अमरीका के पहले पत्रकार हैं जिनकी मौत अफ़ग़ानिस्तान संघर्ष को कवर करते हुए हुई है.

इराक़ में तैनात अमरीकी मरीन के बारे में एक वीडियो सिरीज़ के लिए 2007 में राष्ट्रीय एमी सहित उन्हें कई अवार्ड मिल चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार