मैं प्रधानमंत्री का चमचा हूँ: निहलानी

  • 8 जून 2016

सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहानी ने कहा है, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चमचा होने में उन्हें कोई आपत्ति नहीं है."

ये बात उन्होंने फ़िल्म 'उड़ता पंजाब' को लेकर हो विवाद के बीच एनडीटीवी चैनल के साथ बातचीत में कही.

जब निहलानी से उनकी मोदी समर्थक छवि के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "बिल्कुल, मैं चमचा हूँ. अपने प्रधानमंत्री का चमचा होने में मुझे कोई आपत्ति नहीं है."

निहलानी ने कहा, "मैं सवा सौ करोड़ में से ही एक हिंदुस्तानी हूँ. मैं अपने प्रधानमंत्री का चमचा नहीं होऊंगा तो क्या इटली के प्रधानमंत्री का चमचा होऊंगा."

सेंसर बोर्ड पर आरोप लग रहे हैं कि वो राजनीति कारणों से 'उड़ता पंजाब' में काट छांट चाहता है, जो पंजाब में नशे और ड्रगस् की समस्या पर बनाई गई है.

इमेज कॉपीरइट PHANTOM PICTURES

पंजाब में लगातार दस साल से भारतीय जनता पार्टी और उसकी सहयोगी अकाली दल का शासन है और अगले साल वहां चुनाव होने हैं.

निलहानी ने इस मामले को बुधवार को उस वक्त राजनीतिक रंग देने की कोशिश की जब उन्होंने कहा कि निर्माता अनुराग कश्यप ने ये फिल्म आम आदमी पार्टी से पैसे लेकर बनाई है.

आम आदमी पार्टी ने उनके इस बयान की कड़ी निंदा की और 'उड़ता पंजाब' को रिलीज करने की मांग भी की.

उधर, फ़िल्म में कांट छांट को लेकर भारतीय फ़िल्म और टीवी निर्देशक संघ ने भी निलहानी की आलोचना की और उन पर राजनीतिक प्रभाव में काम करने का आरोप लगाया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार