गुड़गांव के बार में लड़की की पीट-पीट कर हत्या

गुड़गांव इमेज कॉपीरइट AFP

शनिवार के हिंदी अंग्रेज़ी अख़बारों में जो ख़बरें छाई हैं उनमें अफ़ग़ानिस्तान में भारतीय महिला का अपहरण, मोदी डॉक्ट्रिन और गुड़गांव में बार डांसर की पीट-पीटकर हत्या शामिल हैं.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया अख़बार ने लिखा है गुड़गांव के साइबर हब में क़रीब 21 साल की महिला की चार लोगों ने पिटाई की जिसके बाद उसकी मौत हो गई. जिन पर पीटने का आरोप है उनमें तीन पुरुष और एक महिला के नाम शामिल हैं और उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया है. बताया जाता है कि ये सभी बार में ही काम करते थे.

इमेज कॉपीरइट

हिंदुस्तान टाइम्स ने लिखा है कि कोलकाता की एक महिला को अफ़ग़ानिस्तान में अग़वा कर लिया गया है.

39 वर्षीय ज्यूडिथ पिछले 16 महीनों से काबुल में आगा ख़ान ट्रस्ट के लिए काम कर रही थीं.

सूत्रों के हवाले से अख़बार ने लिखा है कि ज्यूडिथ अफ़ग़ानिस्तान में लैंगिक भेदभाव जैसे संवेदनशील मुद्दे पर काम कर रही टीम का हिस्सा थीं.

ज्यूडिथ के पिता डेन्ज़ेल डी सूज़ा ने अख़बार को बताया कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनसे फ़ोन पर बात की और कहा कि सरकार ज्यूडिथ को वापस लाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि गृह मंत्रालय ने ओडिशा सरकार से भद्रक में अदानी समूह के नियंत्रण वाली धर्मा पोर्ट कंपनी लिमिटेड से जुड़े 10 चीनी नागरिकों को भारत छोड़ने का नोटिस देने को कहा है.

बताया गया है कि ये इलाक़ा अब्दुल कलाम द्वीप पर मिसाइल लॉन्च केंद्र के पास है और इसीलिए सुरक्षा के लिहाज़ से ये नोटिस देने को कहा गया है.

इमेज कॉपीरइट zeeshan quadri

अनुराग कश्यप की फ़िल्म 'उड़ता पंजाब' को लेकर चल रहे विवाद पर अंग्रेज़ी अख़बार 'टाइम्स ऑफ़ इंडिया' ने लिखा है कि हाई कोर्ट ने सीबीएफ़सी से कहा है कि आपका काम सर्टिफ़िकेट देना है फ़िल्मों पर कैंची चलाना नहीं. दर्शकों के हाथ में रिमोट है उन्हें फ़ैसला करने दीजिए कि वो क्या चाहते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

'द ट्रिब्यून' ने लिखा है कि अमरीका ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अमरीका यात्रा को ऐतिहासिक बताया है. ओबामा प्रशासन ने भारत अमरीका संबंधों में नई गर्मजोशी की मोदी की सोच को 'मोदी डॉक्ट्रिन' क़रार दिया है. मोदी ने अमरीकी कांग्रेस को संबोधित करते हुए 'अतीत की हिचक' छोड़कर वैश्विक मुद्दों पर एक साथ काम करने की बात कही थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

'हिंदुस्तान टाइम्स' ने लिखा है कि पठानकोट एयरबेस हमले में भारत की जांच एजेंसी एनआईए के सबूतों से पाकिस्तान संतुष्ट नहीं है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ के एक वरिष्ठ सहयोगी ने 'हिंदुस्तान टाइम्स' अख़बार को बताया है कि पाकिस्तान में जांच के लिए बनाई गई साझा जांच टीम भारत के इस दावे से सहमत नहीं है कि पाकिस्तान की ज़मीन का इस्तेमाल पठानकोट एयरबेस पर हमले के लिए किया गया.

वहीं अख़बार ने ये भी लिखा है कि भारत ने पाकिस्तान के इस दावे को ख़ारिज कर दिया है कि सबूतों में कोई दम नहीं है.

इमेज कॉपीरइट AFP

'हिंदुस्तान टाइम्स' अख़बार ने लिखा है कि पश्चिम बंगाल में लोगों के लिए मुसीबत बन चुके 18 हाथियों की निशानदेही की गई है जिन्हें पुनर्वासन केंद्र में भेजा गया है.

अख़बार ने लिखा है कि वन विभाग गांवों में घुसकर फसलों और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले 18 हाथियों को पकड़ेगा और उन्हें पुनर्वासन केंद्र भेजेगा.

पश्चिम बंगाल में 2014-2015 के बीच हाथियों के हमले में 89 लोग मारे जा चुके हैं.

सरकार जल्द ही दो पुनर्वास और राहत केंद्र बनाने जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार