'मैं मोदी-मोदी चिल्लाऊँगा सीना फाड़ के'

केजरीवाल और नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट AFP

लाभ के पद पर चल रहे विवाद के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ एक नया मोर्चा खोल दिया है.

उन्होंने आरोप लगाया है कि नरेंद्र मोदी दिल्ली की सरकार को काम नहीं करने दे रहे हैं.

दरअसल दिल्ली सरकार ने आम आदमी के 21 विधायकों को संसदीय सचिव का ओहदा दिया था.

लेकिन राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने दिल्ली सरकार के उस क़ानूनी संशोधन को ख़ारिज कर दिया जिसमें संसदीय सचिव को लाभ के पद की परिभाषा से अलग रखा गया है.

केजरीवाल ने संसदीय सचिव के पद का बचाव किया और केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया है.

केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ़्रेंस के बाद ट्विटर पर #मोदी_भक्त_केजरीवाल ट्रेंड करने लगा.

लोग केजरीवाल का मज़ाक उड़ाते लिख रहे हैं कि वो हर बात के लिए पीएम मोदी को ज़िम्मेदार ठहरा देते हैं.

दीपक अरोड़ा ने लिखा है कि केजरीवाल मोदी के सबसे बड़े भक्त हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

@molyyy ट्विटर हैंडल से अनुष्का चटर्जी लिखती हैं- अरविंद केजरीवाल उस प्रेमी की तरह बर्ताव कर रहे हैं, जिसे ठुकरा दिया गया है.

देविका (‏@Dayweekaa) कहती हैं- अरविंद केजरीवाल जल्द ही नरेंद्र मोदी को सबसे ज़्यादा बार ज़िम्मेदार ठहराने के लिए विश्व रिकॉर्ड तोड़ने जा रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

@mohitbisht8 ट्विटर हैंडल से मोहित बिष्ट लिखते हैं- जितनी भी कोशिश करें केजरीवाल, उन्हें एक बात ये समझने की आवश्यकता है कि ग़ुस्से में किसी पर आरोप लगाने से आप महान नेता नहीं बनते.

मुकेश झा (‏@mukeshkumar1831) लिखते हैं- केजरीवाल को निर्वाण की प्राप्ति मोदी मोदी जपने से ही होगी.

इमेज कॉपीरइट Other

@PRIYANK_1001 ट्विटर हैंडल से प्रियांक पांडे लिखते हैं- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आधिकारिक रूप से मोदी भक्त घोषित हो चुके हैं. उनके हर ट्वीट में ये कॉमन है कि वे मोदी-मोदी रटते रहते हैं.

अजय सिंह (‏@AjaySinghBaba1) ने लिखा है- इक दिन बिक जायेगा माटी के मोल, जग में रह जाएँगे. बस मोदी जी के बोल.

‏@gautamkn ट्विटर हैंडल से गौतम ने लिखा है- सुबह से लेकर शाम तक, शाम से फिर सुबह तक मैं मोदी मोदी चिल्लाऊंगा सीना फाड़ के.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार