मोदी जी, सीबीआई, एसीबी से हम नहीं डरते: केजरीवाल

  • 21 जून 2016
इमेज कॉपीरइट Other

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा है कि वो सीबीआई या एसीबी जैसी केंद्रीय जांच एजेंसियों से नहीं डरते हैं.

केजरीवाल ने अपने आधिकारिक फ़ेसबुक पेज पर ये बातें लिखी है.

उन्होंने दिल्ली की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) यानी एंटी करप्शन ब्यूरो के ज़रिए सोमवार को उनके ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज किए जाने के बाद ये प्रतिक्रिया दी.

एसीबी ने 400 करोड़ रुपये के कथित पानी टैंकर घोटाले के संबंध में सोमवार को एक केस दर्ज किया.

इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए केजरीवाल ने अपने फ़ेसबुक पर लिखा, ''मोदी जी, आपने वाड्रा के ख़िलाफ़ एफ़आईआर नहीं की, सोनिया के ख़िलाफ़ एफ़आईआर नहीं की, किसी घोटाले में एफ़आईआर नहीं की, जिनका ज़िक्र कर कर के आप पीएम बने? सारी जांच एजेंसी आपके अंडर - सीबीआई, पुलिस, एसीबी. सबको आपने मेरे पीछे छोड़ रखा है. मुझ पर सीबीआई रेड की. कुछ नहीं मिला. अब आपकी एफ़आईआर का स्वागत है.''

केजरीवाल ने आगे लिखा, ''मुझे ख़ुशी है आपने स्वीकार किया कि आपकी लड़ाई सीधे मुझसे है. मोदी जी, आपकी सीबीआई, एसीबी वग़ैरा से हम नहीं डरते.''

इससे पहले सोमवार को एसीबी प्रमुख और दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त एमके मीणा ने बताया कि घोटाले के संबंध में दो शिकायतें मिली हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ मीणा का कहना था, ''शिकायतों में जिनके नाम का ज़िक्र किया गया है, उनमें शीला दीक्षित और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शामिल हैं. आईपीसी और भ्रष्टाचार रोकथाम क़ानून की प्रासंगिक धाराओं के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई है और दोनों से पूछताछ की जाएगी.''

दिल्ली सरकार ने कथित टैंकर घोटाले की जांच समिति की रिपोर्ट पिछले हफ़्ते उपराज्यपाल नजीब जंग को भेजी थी.

दिल्ली बीजेपी के नेता विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल पर 11 महीनों तक समिति की रिपोर्ट को 'दबा कर रखने' का आरोप लगाया था और जंग से इस संबंध में शिकायत की थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

उपराज्यपाल ने समिति की रिपोर्ट और गुप्ता की शिकायत एसीबी को भेज दी थी.

दूसरी तरफ़ दिल्ली के जल मंत्री कपिल मिश्रा ने पिछले हफ़्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उपराज्यपाल नजीब जंग को पत्र लिखकर कथित घोटाले के संबंध में शीला दीक्षित के ख़िलाफ़ सीबीआई या एसीबी की जांच कराए जाने की सिफ़ारिश की थी.

एसीबी को जांच सौंपी गई थी. पहले इसमें शीला दीक्षित का नाम लिया जा रहा था हालांकि शीला इन आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताकर पहले ही ख़ारिज कर चुकी हैं.

लेकिन सोमवार को जब एफ़आईआर दर्ज की गई तो केजरीवाल का भी नाम आ गया.

दिल्ली बीजेपी ने इस मामले में एफ़आईआर दर्ज किए जाने का स्वागत किया है और केजरीवाल से इस्तीफ़े की मांग की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए