रैगिंग मामले में दो के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

  • 23 जून 2016
कर्नाटक छात्रा इमेज कॉपीरइट media one
Image caption डाक्टरों का कहना है कि अवस्थी के इलाज के लिए उसकी मेजर सर्जरी करनी होगी.

कर्नाटक 'रैगिंग' मामले में पुलिस ने दो छात्रों के ख़िलाफ़ हत्या की कोशिश का केस दर्ज किया है.

आरोप है कि नर्सिंग कालेज में एक नई छात्रा अवस्थी को उसके सीनियर्स ने ज़बरदस्ती कीटनाशक पिलाया. जिसकी वजह से उसके सांस लेने की नली को भारी क्षति पहुंची है.

चिकित्सकों ने कहा है कि इलाज के लिए छात्र की सर्जरी करनी पड़ेगी, साथ ही उसे पूरी तरह से ठीक होने में महीनोंं लगेंगे.

हिन्दुस्तान के कॉलेजों में रैगिंग एक बड़ी समस्या है. और ये ग़ैर-क़ानूनी क़रार दिया गया है.

हालांकि कॉलेज ने कहा है कि ये रैगिंग का मामला नहीं है और अवस्थी ने पारिवारिक कारणों से कीटनाशक पी लिया था.

हालांकि अपने वकील को दिए एक लिखित शिकायत में अवस्थी ने दो छात्रों पर ये आरोप लगाया है कि उन्होंने उसे जबरदस्ती शौचालय की सफ़ाई करनेवाला कीटनाशक पिलाया.

अवस्थी ने ये भी कहा कि उन लोगों ने उसकी 'काली चमड़ी' पर भी तंज़ किया था.

अवस्थी के मुताबिक़ इन दो छात्रों ने इस बात पर भी टिपण्णी की थी कि उसके पिता ने उनको छोड़ दिया था.

अवस्थी के चाचा केपी चंद्रन कालीरिकाल ने बीबीसी हिंदी से कहा, "पहले जब वो रैगिंग की शिकायत करती थी तो हम समझते थे कि उसके सीनियर्स छोटी-मोटी बदमाशियां कर रहे होंगे. लेकिन 9 मई की घटना ने हमें अहसास दिला दिया कि मामला कितना गंभीर है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार