स्मृति ईरानी: 'डिग्री' से 'डियर' तक

  • 6 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट PIB

मानव संसाधन विकास मंत्री के तौर पर स्मृति ईरानी लगातार विवादों में रहीं. कभी उनके बयान तो कभी उनके मंत्रालय के फ़ैसले विवादों में रहे. एक नज़र स्मृति ईरानी से जुड़े पांच विवादों पर

  • डिग्री विवाद

स्मृति ईरानी के केंद्रीय मंत्री बनने के साथ ही उनकी डिग्री का विवाद शुरू हो गया. स्मृति ईरानी पर चुनाव के समय दाखिल शपथपत्र में अपनी डिग्री की ग़लत जानकारी देने का आरोप लगा.

इमेज कॉपीरइट Election Commission

उन्होंने एक चुनाव शपथपत्र में दिल्ली विश्वविद्यालय से साल 1996 में कला स्नातक होने की बात कही.

वहीं दूसरे शपथ पत्र में उन्होंने 1994 में दिल्ली के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग से बीकॉम पार्ट वन की परीक्षा पास होने जानकारी दी.

  • रोहित वेमुला की आत्महत्या

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दलित शोध छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या के बाद स्मृति ईरानी विपक्ष के निशाने पर आ गई थीं.

उनके मंत्रालय ने केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय की शिकायत का हवाला देते हुए आरएसएस के छात्र संगठन एबीवीपी के एक नेता की पिटाई के आरोप में यूनिवर्सिटी को कार्रवाई करने को कहा था.

इमेज कॉपीरइट AP

इसके बाद यूनिवर्सिटी ने पांच दलित छात्रों को निष्कासित कर दिया था. निष्कासित छात्रों को छात्रावास से भी निकाल दिया गया. बाद में रोहित वेमुला ने आत्महत्या कर ली थी.

रोहित की मौत पर ईरानी को संसद में बयान तक देना पड़ा था. उनके बयान पर भी विपक्ष ने उन्हें निशाने पर लिया और संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया.

  • जेएनयू में राष्ट्रविरोधी नारेबाज़ी
इमेज कॉपीरइट AP

जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ़्तारी देशविरोधी नारे लगाने के आरोप में हुई थी. बाद में ज़मानत पर रिहा कन्हैया कुमार ने स्मृति पर जमकर निशाना साधा था.

  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी विवाद

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के अल्पसंख्यक दर्जे को लेकर भी मानव संसाधन विकास मंत्रालय सक्रिय हुआ था. इस पर भी स्मृति ईरानी निशाने पर थीं.

  • डियर विवाद

सोशल मीडिया पर बिहार के शिक्षा मंत्री डॉक्टर अशोक चौधरी और केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति इरानी की ट्विटर पर झड़प चर्चा का विषय बनी.

इमेज कॉपीरइट Other

बिहार के शिक्षा मंत्री ने जब केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री को अपने ट्वीट में संबोधित करते हुए 'डियर' लिखा तो इसके जवाब में स्मृति ने पूछ लिया, 'महिलाओं को डियर कबसे लिखने लगे.'

बस फिर क्या था, ट्विटर पर दोनों मंत्रियों के बीच पूरी बहस छिड़ गई, जो उनके मंत्रालयों के कामकाज तक जा पहुँची.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार