उनका मज़हब से कोई लेना देना नहीं: आमिर

  • 7 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट AAMIR

बॉलीवुड स्टार आमिर ख़ान ने कहा है कि जो लोग 'आंतकवाद' फैलाते हैं उनका मज़हब से कोई लेना देना नहीं है.

जल्द ही 'दंगल' फिल्म में दिखने वाले आमिर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, "मुसलमान, हिंदू, सिख या ईसाई चाहे जो हो, जो लोगों को मारते हैं, आतंकवाद फैलाते हैं, उनका मजहब से कोई लेना देना नहीं होता है. भले ही वो कितना कहें कि हम मज़हब के लिए कर रहे हैं. लेकिन उनका इससे कोई लेना देना नहीं है."

ईद के दिन आमिर ख़ान ने कहा, "अगर वो कहते हैं कि मज़हब के लिए कर रहे हैं तो मज़हब तो प्यार सिखाता है."

जब उनसे धर्म प्रचारक जाकिर नाइक पर पाबंदी लगाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस बारे में टिप्पणी करने से इनकार किया.

उन्होंने कहा कि जो भी देश का क़ानून है उस पर अमल होना चाहिए.

रिपोर्टों के मुताबिक़ पिछले दिनों ढाका के कैफे में हमला करने वाले कुछ चरमपंथी नाइक को फॉलो करते थे.

सलमान की 'सुल्तान' की रिलीज़ से ठीक एक दिन पहले आमिर ने 'दंगल' का पोस्टर अपने फेसबुक पन्ने पर जारी किया.

'दंगल' दिसंबर में क्रिसमस से ठीक पहले 23 तारीख़ को आएगी. इस फिल्म में आमिर एक पहलवान के किरदार में नज़र आएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार