'नाइक से प्रभावित युवक चाहते थे आईएस से जुड़ना'

  • 9 जुलाई 2016
बुरहान वानी इमेज कॉपीरइट

दिल्ली से प्रकाशित अख़बारों ने भारत प्रशासित कश्मीर में एक मुठभेड़ में संदिग्ध चरमपंथी बुरहान वानी की मौत की ख़बर को प्रमुखता से प्रकाशित किया है.

साथ ही अमरीका में पुलिसकर्मियों पर हुए हमले में पाँच पुलिस अधिकारियों की मौत और मणिपुर में आफ़स्पा पर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को प्रमुखता से छापा गया है.

सुप्रीम कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा है कि मणिपुर जैसे अशांत इलाक़ों में सेना की कार्रवाइयां जाँच से परे नहीं हो सकती हैं.

'द हिंदू' लिखता है, "सुप्रीम कोर्ट एंड्स इमप्यूनिटी फॉर आर्म्ड फ़ोर्सेज".

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption इरोम शर्मिला आफ़्स्पा के ख़िलाफ़ सालों से आंदोलन कर रही हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक़ सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा, "अशांत क्षेत्रों में सैन्य बलों के हाथों होने वाली प्रत्येक मौत, वह भले ही मृतक शातिर अपराधी, विद्रोही या चरमपंथी ही क्यों ना हो, की गहन जाँच होनी चाहिए."

इसी ख़बर पर 'द इंडियन एक्सप्रेस' का शीर्षक है, " अनिश्चिकालीन आफ़स्पा सेना की असफलता हैः सुप्रीम कोर्ट." अपनी टिप्पणी में सुप्रीम कोर्ट ने कहा, "सामान्यतः देश की सेनाओं का इस्तेमाल देश के नागरिकों के ख़िलाफ़ नहीं किया जाना चाहिए."

वहीं 'द टाइम्स ऑफ़ इंडिया' ने इसी ख़बर को सुर्खी बनाई है, "आफ़स्पा को ख़त्म करने के बारे में सोचने का समय आ गयाः सुप्रीम कोर्ट"

'द टाइम्स ऑफ़ इंडिया' की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, इस्लामिक स्टेट से जुड़ने की चाह रखने वाले मुंबई के चार युवक इस्लामी प्रचारक ज़ाकिर नाइक से प्रभावित थे.

इमेज कॉपीरइट Facebook

ज़ाकिर नाइक के टीवी चैनल पीस टीवी और उनकी वेबसाइट को ब्लॉक करने के केंद्र सरकार के आदेश पर हिंदी अख़बार दैनिक जागरण लिखता है, "ज़ाकिर नाइक की बोलती बंद."

'द इंडियन एक्सप्रेस' की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ मध्य पूर्व से गायब केरल की 15 महिलाओं में से पांच के इस्लामिक स्टेट के साथ जुड़ने की आशंका है.

इंडियन एक्सप्रेस की ही एक रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात में सवर्णों ने एक दलित की पीट-पीटकर हत्या कर दी है. मामला पोरबंदर के सोधाना गांव का है.

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे गैंग का पर्दाफ़ाश किया है जो एडल्ट वेबसाइटों के ज़रिए पुरुषों से उगाही करता था. ये ख़बर हिंदुस्तान टाइम्स ने प्रकाशित की है.

इमेज कॉपीरइट AP

रिपोर्ट के मुताबिक डेटिंग वेबसाइटों पर सक्रिय ये गैंग ऐसे पुरुषों को निशाना बनाता था जो अंजान महिलाओं से वेबसाइट के ज़रिए संपर्क में आने के बाद डेट पर मिलते थे.

वहीं आम आदमी पार्टी के एक और विधायक प्रकाश जारवाल पर छेड़खानी का मामला दर्ज़ किया गया है. ये ख़बर लगभग सभी अख़बारों में है.

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली और केंद्र सरकार के बीच टकराव संबंधित याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया है. ये ख़बर भी अधिकतर अख़बारों ने प्रकाशित की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करसकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए