पाक का आतंकवाद के प्रति लगाव जारी: भारत

  • 11 जुलाई 2016
कश्मीर प्रोटेस्ट इमेज कॉपीरइट AFP

भारत प्रशासित कश्मीर में हिज़्बुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी की मौत और उसके बाद वहाँ हो रहे हिंसक प्रदर्शनों पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के बयान पर भारत ने तल्ख टिप्पणी की है.

भारत के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा है कि पाकिस्तान का ये बयान दिखाता है कि 'पाकिस्तान का आतंकवाद के प्रति लगाव जारी है.'

वानी की मौत के बाद कश्मीर घाटी में शुरू हुए विरोध प्रदर्शनों में पिछले चार दिनों में कम से कम 30 लोग मारे गए हैं और लगभग सौ सुरक्षाकर्मयिों समेत 300 लोग ज़ख्मी हैं.

कश्मीरी नेता वानी की हत्या से सदमा लगा: पाक

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, "हमने भारत के राज्य जम्मू-कश्मीर के हालात पर पाकिस्तान के बयान को देखा है. ये आतंकवाद के प्रति पाकिस्तान के लगातार लगाव और उसे हथियार के रूप में इस्तेमाल करने की सरकारी नीति को दिखाता है."

इमेज कॉपीरइट AP

गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने भी इसे भारत का अंदरूनी मामला बताते हुए कहा कि 'उसे पाकिस्तान के क़ब्ज़े वाले कश्मीर में होने वाले मानवाधिकार उल्लंघनों की चिंता करनी चाहिए.'

महबूबा सरकार की अलगाववादियों से गुहार

इस बीच पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को बुलाकर भारत प्रशासित जम्मू कश्मीर के हालत पर चिंता व्यक्त की है.

विश्लेषकों के मुताबिक 1996 के बाद घाटी में इतने बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हो रहे हैं.

तस्वीरें- विरोध की आग में जल रहा कश्मीर

राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. महबूबा मुफ़्ती सरकार ने अलगाववादी नेताओं से मदद की गुहार लगाई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार