एमपी: बाढ़ के बाद डायरिया का डर

  • 17 जुलाई 2016
बाढ़ इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption (फाइल फ़ोटो)

मध्यप्रदेश में बाढ़ के बाद अब डायरिया के चलते लोगों की मौत हो रही है. सूबे के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक़ अब तक 27 लोग मर चुके हैं.

भोपाल की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीना सिन्हा ने बीबीसी को बताया, "ख़राब पानी की वजह से लोग डायरिया का शिकार हो रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की टीम नज़र रखे है ताकि लोगों को राहत पहुँचाई जा सके. लोगों को सलाह दी जा रही है कि वो उबालकर पानी का उपयोग करें."

उन्होंने बताया कि भोपाल में हर रोज़ डायरिया के 250 से ज़्यादा मरीज़ आ रहे हैं.

लेकिन प्रदेश के दूरदराज़ इलाक़ों में हालात ज़्यादा ख़राब हैं.

इमेज कॉपीरइट S Niazi
Image caption बाढ़ से फसल को भी नुक़सान पहुँचा

जबलपुर के मेहगांव में डायरिया से दो महिलाओं की मौत हुई है. सतना, रीवा, छतरपुर, डिंडौरी और दूसरे इलाक़ों से भी डायरिया की ख़बरें हैं.

डिंडौरी जिले के सुखलौड़ी गांव के 40 लोगों को डायरिया के कारण इसी हफ़्ते अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था. इनमें से चार की मौत हो गई थी. गड्ढे में भरा पानी पीने से इनकी तबीयत ख़राब हुई थी.

बैतूल ज़िले में भी चार आदिवासियों की मौत डायरिया से हुई है. गांव के 200 लोगों ने उल्टी दस्त की शिकायत की थी.

वहीं छतरपुर जेल के 10 क़ैदियों को भी डायरिया के चलते अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था.

इमेज कॉपीरइट PTI

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बैठक बुलाकर आदेश दिया था कि स्वास्थ्य विभाग की टीमें उन क्षेत्रों में काम करें जहां बाढ़ का प्रकोप था.

मध्यप्रदेश में पिछले हफ़्ते आई बाढ़ में 29 लोगों की मौत हुई थी, और तीन लाख से ज़्यादा लोगों को बेघर होना पड़ा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार