'राहुल खेद जताएँ या मुक़दमे का सामना करें'

  • 19 जुलाई 2016
भारत की सुप्रीम कोर्ट इमेज कॉपीरइट AP

सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से कहा है कि आरएसएस पर दिए बयान पर या तो वो ख़ेद जताएं या मुक़दमे का सामना करने के लिए तैयार रहें.

राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी कि उनके खिलाफ़ महाराष्ट्र की एक अदालत में चल रहे आपराधिक मानहानि के मामले को रद्द किया जाए.

राहुल गांधी के ख़िलाफ़ आरएसएस पर महात्मा गांधी की हत्या का आरोप लगाने का मामला दर्ज किया गया है.

इमेज कॉपीरइट EPA

अदालत ने कहा कि मामले का फ़ैसला मेरिट के आधार पर होना चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप किसी पूरे के पूरे संगठन को ज़िम्मेदार नहीं ठहरा सकते हैं.

अदालत ने कहा कि क़ानून का उद्देश्य यह नहीं है कि वह नागरिकों को मुक़दमेबाज़ बना दे. इतिहास निजता का सबसे बड़ा दुश्मन है.

इमेज कॉपीरइट ALOK PUTUL

सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को इस मामले में अपना पक्ष रखने के लिए 27 जुलाई तक का समय दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार