कहां चले गए कानों की मैल निकालने वाले?
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कहां चले गए कानों की मैल निकालने वाले?

  • 28 अप्रैल 2018

एक वक़्त पर ढाका के इस बस स्टॉप पर 10 से 15 ऐसे लोग होते थे जो कान की सफ़ाई करते थे लेकिन आज सिर्फ़ मोहम्मद ही हैं. इनमें से ज़्यादातर लोग अब दूसरे कामों में लग गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे