बीबीसी हिंदी का ट्विटर एग्रिगेटर

बीबीसी हिंदी वेबसाइट पर इस नए टूल का उद्देश्य है 'हाइवे हिंदुस्तान' पर निकले संवाददाताओं को आपसे सीधे जोड़ना.

आप इंटरनेट साइट ट्विटर से ज़रूर परिचित होंगे. अगर नहीं, तो आपको बताते चलें कि ये वेबसाइट इंटरनेट के ज़रिए 140 कैरेक्टर के छोटे-छोटे संदेश देने की सुविधा प्रदान करती है.

पिछले कुछ समय से बीबीसी संवाददाता ट्विटर का इस्तेमाल किसी बड़े समाचार से जुड़े अपडेट देने के लिए करते रहे हैं. लेकिन अब तक हमारे पास अलग-अलग संवाददाताओं के संदेशों को संजो कर आपके सामने रखने की सुविधा नहीं थी.

इस टूल ने ऐसा करना संभव कर दिया है. इसके ज़रिए 'हाइवे हिंदुस्तान' की यात्रा पर निकले हमारे तीनों संवाददाता - ब्रजेश उपाध्याय, विनोद वर्मा और संतोष सिन्हा - अपने अनुभव आपके साथ बांटेंगे.

हम आपको बता दें अभी यह परीक्षण के स्तर पर है, अगर इसके इस्तेमाल में आपको किसी तरह की परेशानी हो तो हमें ज़रूर बताइएगा.

हालांकि ट्विटर पर हमारे संवाददाताओं द्वारा भेजे संदेशों की हम पूरी ज़िम्मेदारी लेते हैं, लेकिन इस साइट पर छपे अन्य संदेशों या इन संदेशों से जुड़ी वेबसाइट की ज़िम्मेदारी हमारी नहीं है.

हमेशा की तरह आपके सुझावों का हमें इंतज़ार रहेगा.