ग्राहकों को कार कंपनी से 15 अरब डॉलर जुर्माना

  • 28 जून 2016
इमेज कॉपीरइट EPA

कार कंपनी फ़ॉक्सवैगन उत्सर्जन मानकों से छेड़छाड़ के लिए अमरीकी कार मालिकों को 15 अरब डॉलर का जुर्माना देगी.

सूत्रों के मुताबिक़ समझौते में प्रभावित डीजल गाड़ियों की मरम्मत या उन्हें वापस लेने की बात भी शामिल है.

इसके अलावा फ़ॉक्सवैगन कार मालिकों को मुआवज़ा देने पर भी राज़ी हुई है.

पिछले साल अमरीकी नियामक एजेंसियों ने आरोप लगाया था कि फ़ॉक्सवैगन कारों में ऐसे सॉफ्टवेयर लगाए गए हैं, जो प्रदूषण मानकों की अनदेखी करते हैं.

इसके बाद कंपनी ने स्वीकार किया था कि इससे दुनिया भर में 1.1 करोड़ कारें प्रभावित हुई हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि अमरीका के साथ हुए इस समझौते पर अभी किसी कोर्ट की मुहर लगनी बाक़ी है. लेकिन यह देश के इतिहास में कार विवाद से जुड़ा सबसे बड़ा समझौता होगा.

इसके बारे में पूरी जानकारी मंगलवार तक आ सकती है.

पिछले साल सितंबर में पर्यावरण और सुरक्षा एजेंसी ने अमरीका में बेची गई फ़ॉक्सवैगन कारों के इंजनों की जांच में पाया था कि उनमें ख़ास सॉफ़्टवेयर लगा है, जो जांच के दौरान प्रदूषण का स्तर घटा देता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार