37 साल बाद मिली शादी की खोई अंगूठी

  • 20 सितंबर 2016
इमेज कॉपीरइट jessica nisson facebook
Image caption जेसिका का फेसबुक पोस्ट, जिसमें उन्होंने अंगूठी की तस्वीर डाली हुई है.

एक स्पेनिश जोड़े को इत्तेफाक़ से 37 साल पहले खो गई शादी की अंगूठी अचानक से मिल गई.

स्थानीय अख़बार हेराल्डो के मुताबिक़ अगस्टीन एलिआगा और उनकी पत्नी जुआनी सांचेज़ की शादी की अंगूठी शादी के सिर्फ़ पांच महीने बाद 1979 में खो गई थी.

बेनीडॉर्म के स्पेनिश रिसॉर्ट के नज़दीक तैरते हुए उनकी ये अंगूठी खो गई थी.

इस जोड़े ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि ये अंगूठी फिर से उन्हें मिल पाएगी. उन्हें लगा कि वे हमेशा के लिए इसे खो चुके हैं.

लेकिन एक गोताखोर जेसिका निसोस को अचानक से अगस्त में ये अंगूठी मिली.

जेसिका निसोस ने इसके मालिक को तलाशने की उम्मीद से अंगूठी की तस्वीर फेसबुक पर डाली.

उन्होंने तस्वीर डालते हुए लिखा, "मुझे बेनीडॉर्म द्वीप पर तैरते हुए ये शादी की अंगूठी मिली है. मैं उम्मीद करती हूं कि मैं इसे इसके मालिक तक पहुंचा सकूंगी. चूंकि इस पर गाद जमा हुआ था इसलिए लगता कि यह बहुत पहले की खोई हुई अंगूठी है."

"यह 17-02-1979 में शादी किए हुए जोड़े की अंगूठी है. कृप्या क्या आप इसकी तस्वीर शेयर कर सकते हैं? इसे इसके असली हक़दार तक पहुंचाना मेरे लिए बहुत अहम है. सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद. कृप्या इसे शेयर करें."

उनके अनुरोध के बाद फेसबुक पर अस्सी हज़ार लोगों ने इस पोस्ट को शेयर किया.

इमेज कॉपीरइट jessica nisson facebook

बेनीडॉर्म के इलाके में रहने वाली एलिआगा की भतीजी ने इस पोस्ट को देखा और अपने चाचा-चाची को इसके बारे में बताया.

उन्होंने जेसिका से उन लोगों का संपर्क करवाया.

जेसिका ने तीन सौ संदेश मिलने के बाद आख़िरकार एलिआगा को वो अंगूठी वापस की.

एलिआगा ने कहा, "वो देखना चाहती थी कि वाकई में ये अंगूठी मेरी है या नहीं. हमने उन्हें फैमिली रजिस्टर की फोटोकॉपी और शादी की अंगूठी की एक तस्वीर भेजी."

"जब मेरी पत्नी ने उन्हें अपना नाम बताया तो वो खुशी से चिल्लाने लगीं. यह एक सुखद आश्चर्य था. क्योंकि इसका महत्व सिर्फ एक समान भर का नहीं था बल्कि यह एक भावनात्मक महत्व की चीज़ थी. चर्च में हुई हमारी शादी की यादें इससे जुड़ी थीं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए